slider

SSB की DG अर्चना रामसुंदरम को उत्कृष्ट महिला उपलब्धि सम्मान

नई दिल्ली। महिला…जिसके बिना सृष्टि की कल्पना भी नहीं की जा सकती। फिर भी उसे वांछित सम्मान देने के लिए हमें 8 मार्च यानी महिला दिवस का इंतजार करना पड़ता है। उसे कभी अबला तो कभी निरीह कहा जाता है…क्यों? शायद इसलिए कि समाज में पुरुषवादी सोच से हम आज भी मुक्त नहीं हो पाए हैं। लेकिन आज की तारीख में नारी के कदम अंतरिक्ष तक जा पहुंचे हैं…कोई रोक पाया क्या इन्हें? कतई नहीं। आज सामाजिक दायित्व निभाना हो, आर्थिक, राजनीतिक मोर्चा हो या देश की सुरक्षा और आतंरिक क़ानून-व्यवस्था का मामला… सब जगह महिलाओं ने झंडे गाड़ रखे हैं।





ऐसी ही सफल और दैदीप्यमान महिलाओं को आज के दिन सम्मानित किया जाता है। दूरदर्शन के कार्यक्रम ‘तेजस्विनी’ में ऐसी ही ओजवान महिलाओं को न सिर्फ विषय बनाया गया है बल्कि उन्हें हर साल सम्मानित भी किया जाता है। महिला दिवस की पूर्व संध्या पर ‘तेजस्विनी’ ने सशस्त्र सीमा बल (SSB) की महानिदेशक अर्चना रामसुंदरम को उत्कृष्ट महिला उपलब्धि सम्मान से नवाजा गया। यह सम्मान उन्हें केन्द्रीय मंत्री वेंकैया नायडू और मेनका गांधी ने एक समारोह में प्रदान किया।

Comments

Most Popular

To Top