Forces

गोपनीय सूचना के आधार पर SSB को मिली बड़ी कामयाबी

अष्टधातु

सिलीगुड़ी। सशस्त्र सीमा बल (SSB) 41वीं वाहिनी व कस्टम की टीम ने पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में एक युवक को बेशकीमती अष्टधातु की मूर्ति के साथ हिरासत में लिया है। इस संयुक्त ऑपरेशन में 500 वर्ष पुरानी अष्टधातु से निर्मित भगवान विष्णु की मूर्ति जब्त की। इस बारे में एसएसबी और कस्टम को गोपनीय सूचना मिली थी।





एसएसबी 41वीं वाहिनी के द्वितीय कमान अधिकारी डीके सिंह के नेतृत्व में जब युवक को घेरकर उसकी तलाशी ली गई तो उसके पास से मूर्ति बरामद हुई। हिरासत में लिए गए युवक का नाम पुलकित ऋषि है, जो बिहार के पूर्णिया जिले का निवासी है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में मूर्ति की कीमत लगभग 45 करोड़ रुपये आंकी गई है।

अष्टधातु

इस मूर्ति की अंतरराष्ट्रीय बाजार में लगभग 45 करोड़ रुपये आंकी गई है

टीम को इस बात का पता तब चला जब किसानगंज-सिलीगुड़ी रोड पर एक व्यक्ति नेपाल के लिए उसे तस्करी का रास्ता दिखा रहा था। सिलीगुड़ी यूनिट के कस्टम विभाग के सुपरिटेंडेंट मुकेश कुमार ने बताया कि उत्तर बंगाल विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग से एक प्राथमिक प्रमाणपत्र दिया गया है जो यह प्रमाणित करता है कि जब्त की गई मूर्ति एंटीक है। कीमती अष्टधातु की ये मूर्ति 54 सेमी लम्बी, 23 सेमी चौड़ाई और 24.07 किलो ग्राम वजनी है।

Comments

Most Popular

To Top