Forces

जानिए, ITBP ने जवानों की पत्नियों से क्या कहा !

आईटीबीपी

नई दिल्ली। अगर आप शादीशुदा हैं तो अपने पति को फिर से विवाह की करने की अनुमति न दें। अपने पति के रेजिमेंटल नंबर और रैंक के प्रति जानकारी लेती रहें… ऐसे ही कुछ दिशा-निर्देश सीमा की सुरक्षा में लगी इंडो-तिब्बती सीमा पुलिस (आईटीबीपी) ने एक अनूठी पुस्तिका में संकलित किए हैं और दूरदराज के सीमावर्ती इलाकों में तैनात सैनिकों की पत्नियों को वितरित किए हैं। एक और पुस्तिका भी जवानों के परिवार को शिक्षित करने के लिए तैयार की गई है जोकि स्वास्थ्य और स्वास्थ्य विज्ञान के ऊपर है। इन दो पुस्तिकाओं की 85,000 से ज्यादा प्रतियां पहले ही मुद्रित कर दी गई हैं और ITBP की फील्ड इकाइयों को भेज दी गई हैं।





आईटीबीपी

ITBP ने दूरदराज़ क्षेत्रों में तैनात अपने जवानों और उनकी पत्नियों को एक अनोखी पुस्तिका बांटी

पुस्तक में दी अधिकारों की जानकारी

ITBP के महानिदेशक कृष्ण चौधरी ने पुस्तक की भूमिका लिखी है। बल की सभी इकाइयों को सख्त निर्देश जारी किए गए हैं कि जवान जब छुट्टियों में अपने घर जाएं तो इन पुस्तकों को अपने परिवारों को दें। श्री चौधरी ने कहा कि, “हमने फ़ोर्स के डाक्टरों और विशेषज्ञों से बात करके ये बुकलेट तैयार की है। मकसद यह है कि जवान और उनका परिवार स्वस्थ और प्रसन्न रहे। क्योंकि जवान ऐसे कठिन क्षेत्रों में तैनात रहते हैं, जहां दुनिया से संपर्क बेहद कम होता है।

 

जवानों की पत्नियों के लिए तैयार की गई किताब में उन्हें बताया गया है कि उन्हें अपने पतियों की रेजिमेंटल नम्बर (फ़ोर्स आईडी), रैंक, वर्तमान सैलरी, बटालियन या इकाई का तैनाती स्थल और यहां तक कि उनके पति कितनी सरकारी छुट्टियों के हकदार हैं जैसी जानकारी भी होनी चाहिए।

दूसरी शादी करने पर जवान सेवा से हो जाएगा बर्खास्त

आईटीबीपी प्रवक्ता उप कमांडेंट विवेक के. पांडेय ने बताया कि बल का ड्यूटी चार्टर ऐसा होता है कि जवान लंबे समय तक घरों से दूर होते हैं और छुट्टियों में ही अपने घर जाते हैं। पांडेय के अनुसार कई जवान और उनके परिवार अपने अधिकारों को लेकर अनभिज्ञ होते हैं, अत: उन्हें जागरूक करने के लिए पुस्तिका तैयार की गई है। अगर बल का कोई जवान अपनी पहली पत्नी के जीवित रहते हुए उसकी बिना लिखित सहमति के दूसरी शादी करता है तो आईटीबीपी के नियमों के अनुसार उसे सेवा से बर्खास्त किया जा सकता है।

Comments

Most Popular

To Top