Forces

ITBP के जांबाजों ने फतह की 7वीं सबसे ऊंची चोटी

भारत तिब्बत सीमा पुलिस

नई दिल्ली। भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के पांच जांबाज पर्वतारोहियों और 2 शेरपाओं के दल ने नेपाल स्थित विश्व की 7वीं सबसे ऊंची चोटी धौलागिरी-1 (8,167 मीटर) पर कल दिन में लगभग 1 बजे राष्ट्र और बल का ध्वज लहराया। पिछले एक दशक में किसी भी भारतीय दल द्वारा धौलागिरी-1 पर यह पहला सफल अभियान है। इस दल के आज देर शाम समिट कैम्प लौटने की सम्भावना है।





पर्वतारोही दल ने 18 मई की रात करीब 10 बजे समिट कैंप से नार्थ ईस्ट रिज की ओर से चढ़ाई शुरू की और 15 घंटों के लगातार प्रयासों के बाद चोटी पर पहुँचने में सफलता पाई। इस दौरान दल ने तकनीकी चढ़ाई के माध्यम से आरोहण किया। दल ने कई स्थानों पर रस्सियां भी स्थापित कीं।

सफल पर्वतारोहियों में सेकेंड इन कमांड रतन सिंह सोनाल, हेड कांस्टेबल प्रदीप नेगी, कांस्टेबल नुर्बू वान्ग्दुस, कांस्टेबल प्रदीप पंवार, कांस्टेबल संजय सिंह शामिल हैं। इनमें रतन और प्रदीप अनुभवी पर्वतारोही हैं जबकि बाकी तीन ने पहली बार आठ हजार मीटर से ज्यादा से ऊंची किसी चोटी पर चढ़ाई की है।

ITBP के 23 सदस्यीय धौलागिरी पर्वतारोहण दल को 10 मार्च को गृह सचिव राजीव महर्षि ने नई दिल्ली मुख्यालय से हरी झंडी दिखाई थी। आईटीबीपी महानिदेशक (DG) कृष्ण चौधरी ने दल को सफल आरोहण पर शुभकामनाएं दीं हैं।

Comments

Most Popular

To Top