CISF

CISF की मेजबानी के साथ 10 दिसंबर से शुरू हो रही है भारतीय एथलेटिक्स चैम्पियनशिप

CISF के कार्यक्रम में पीटी ऊषा

नई दिल्ली। अखिल भारतीय पुलिस एथलेटिक्स चैम्पियनशिप- 2018 का आयोजन 10 दिसंबर से नई दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में किया जा रहा है। खास बात यह है कि इस बार चैम्पियनशिप की मेजबानी केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) कर रहा है। यह चौथा अवसर है जब बड़े पैमाने पर किया जा रहा खेलकूद का यह आयोजन सीआईएसएफ कर रहा है। इससे पहले साल 2016 में भी वह इस जिम्मेदारी को अपने कंधों पर उठा चुका है।





सशस्त्र बल के नई दिल्ली स्थित मुख्यालय में आज प्रेस वार्ता कर CISF के ADG (HQ) आलोक कुमार पटेरिया ने चैम्पियनशिप- 2018 के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर पद्मश्री, अर्जुन पुरस्कार विजेता पीटी ऊषा, अर्जुन पुरस्कार विजेता शक्ति सिंह तथा जानीमानी एथलीट दुत्तीचंद भी मौजूद थीं।

सीआईएसएफ

ADG  पटेरिया ने बताया कि 05 दिवसीय इस आयोजन में 34 टीमें भाग ले रही हैं। जिसमें केंद्रीय तथा राज्य पुलिस के करीब 1,100 खिलाड़ी अपनी प्रतिभा व कौशल का प्रदर्शन करने मैदान में उतरेंगे। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता स्थल तथा एथलीटों के ठहरने वालों स्थनों पर एम्बुलेंस के साथ मेडिकल की टीमें भी उपलब्ध रहेंगी। सभी बुनियादी सुविधाओं को मुहैया कराने के लिए CISF ने सभी तैयारियां भलीभांति पूरी कर ली हैं।

एडीजी पटेरिया ने कहा कि चैंपियनशिप का उद्घाटन समारोह 10 दिसंबर को अपराह्न 04:30 बजे नई दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में किया जाएगा। इस मौके पर उपराष्ट्रपति एम वैंकेया नायडू मौजूद रहेंगे। चैम्पियनशिप का समापन 14 दिसंबर को अपराह्न 04:30 बजे होगा जिसमें युवा मामले एवं खेल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राजवर्धन सिंह राठौर मुख्य अतिथि होंगे। इस अवसर पर CISF द्वारा एक स्मारिका भी जारी की जाएगी।

पीटी ऊषा

प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपने जमाने की ‘उड़न परी’ तथा मौजूदा समय में कालीकट में एथलीट एकेडमी का संचालन कर रही पीटी ऊषा ने सीआईएसएफ द्वारा किए जा रहे इस विराट आयोजन की सराहना की और कहा कि चूंकि वह नियमित विमान यात्रा करती रहती हैं लिहाजा हवाई अड्डों पर CISF की कार्यशैली उन्हें बेहद प्रभावित करती है।

गौरतलब है कि हर साल इस चैम्पियनशिप का आयोजन अखिल भारतीय पुलिस खेल नियंत्रण बोर्ड के तत्वावधान में बारी-बारी से केंद्रीय या राज्य पुलिस बलों द्वारा पुलिस संगठनों के बीच बेहतर संबंधों को बढ़ावा देने के उद्धेश्य से किया जाता है जो यह खेलकूद के क्षेत्र में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को प्रोत्साहित करने में कारगर साबित होता है।

Comments

Most Popular

To Top