CRPF

‘ऑपरेशन प्रहार’ में सुकमा हमले के मास्टरमाइंड को लगी गोली

नक्सली हिडमा

सुकमा। नक्सली हमले का मास्टरमाइंड कहा जाने वाला हिडमा कथित तौर पर छत्तीसगढ़ पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के संयुक्त अभियान के दौरान घायल हुआ है। छत्तीसगढ़ के जंगलों में छिपे नक्सलियों के सफाये के लिए चलाए गए सुरक्षा बलों के ‘ऑपरेशन प्रहार’ के दौरान हिडमा को गोली लगी है।





सुकमा के एसपी अभिषेक मीणा ने बताया कि तोंदामार्का गांव के लोगों ने इस बात की पुष्टि की है कि हिडमा को गोलियां लगी हैं। उसे कितना जख्म पहुंचा है अभी इसका पता नहीं चल पाया है। मीणा ने आगे बताया कि गांव वालों ने बताया है कि नक्सली 10 शवों को तोंदामार्का से सकलेर इलाके में ले गए।

56 घंटे के अभियान में 1,500 जवानों ने लिया हिस्सा 

छत्तीसगढ़ के स्पेशल डीजीपी डी एम अवस्थी ने इस बात की पुष्टि की है कि छत्तीसगढ़ में 23 जून को नक्सलियों के खिलाफ चलाए गए ‘ऑपरेशन प्रहार’ के दौरान दर्जन भर से ज्यादा नक्सली मारे गए हैं, जबकि 3 जवान भी शहीद हुए। उन्होंने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ चलाए गए इस 56 घंटे के अभियान में करीब 1,500 जवानों ने हिस्सा लिया।

डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (DRG) के 3 जवान हुए शहीद

अवस्थी ने कहा, ‘अभियान के दौरान हमने डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (DRG) के 3 जवानों को खोया जबकि 5 जवान घायल हुए हैं। करीब एक दर्जन से ज्यादा नक्सली मारे गए हैं और 8 से 10 घायल भी हुए हैं। यह ऑपरेशन 56 घंटे तक चला। करीब 1,500 जवानों ने इस जॉइंट ऑपरेशन में हिस्सा लिया। यह अभियान आज खत्म हुआ है।’ बता दें कि इस साल अप्रैल में सुकमा में नक्सली हमले में CRPF के 26 जवान शहीद हुए थे।

Comments

Most Popular

To Top