CRPF

CRPF ने पकड़ा विस्फोटक व ज़िंदा कारतूस का ज़खीरा

सीआरपीएफ

लोहरदगा। पुलिस और CRPF की 158 बटालियन की ओर से नक्सलियों के सफाये के लिए लगातार छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में रविवार को पुलिस-सीआरपीएफ को बड़ी सफलता मिली। 26 अप्रैल को लोहरदगा जिला में 10 माओवादियों ने सरेंडर किया था।





जब्त-कारतूस

लोहरदगा में सीआरपीएफ-पुलिस को मिला बड़ा जखीरा

पेशरार ओपी क्षेत्र के ग्राम हुसरू तथा ग्राम मुरहू करचा क जंगल में नक्सलियों द्वारा जमीन में गाड़ कर छिपाया गया भारी मात्रा में विस्फोट सामग्री एवं जिंदा गोलियां पुलिस ने बरामद की हैं। इस अभियान में बरामद विस्फोटकों की मात्रा को देखते हुए पुलिस इसे बड़ी कामयाबी मान रही है। नक्सली संगठन के लोग इन्हीं विस्फोटकों को लैंड माइन के रूप में इस्तेमाल कर सुरक्षा बलों एवं पुलिस के जवानों को नुकसान पहुंचाते रहे हैं।

सीआरपीएफ

नक्सलियों ने कन्टेनर में छुपाए थे विस्फोटक

नक्सलियों के सरेंडर के बाद एसपी ने बगड़ू थाना क्षेत्र के नक्सलियों ऑपरेशन नेत्रा चलाया गया। अभियान से पुलिस को कॉडेक्स वायर 21,000 फीट, एसएलआर की 272 गोलियां, 51,00 डेटोनेटर, 303 की गोली, इन्सास की 19 चक्र गोलियां, 44 राउंड 9 MM की गोलियां, विस्फोटक पाउडर दो कुंतल और 303 मैगजीन चार्जर 34 पीस मिले हैं।

अभियान में CRPF की 158 बटालियन के साथ पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार ओझा, थाना प्रभारी बगडू नवीन प्रकाश, अनिल कुमार और शामिल रहे।

विस्फोटक

नक्सलियों ने जमीन के अंदर छुपा रखा था विस्फोटक

 

Comments

Most Popular

To Top