CRPF

CRPF-पुलिस ने एक नक्सली मारा, हथियार बरामद

नक्सलियों से मुठभेड़

रांची। गिरिडीह जिले के पारसनाथ इलाके में निमियाघाट थाना के धोलकट्टा गांव के पास सीआरपीएफ की 203 कोबरा के साथ 8-9 माओवादियों के साथ मुठभेड़ हुई। घटना शुक्रवार दोपहर एक बजे की है। मुठभेड़ में माओवादी कमांडर प्रयाग मांझी उर्फ विवेक के साथ अजय महतो और नुनु चंद मांझी की टीम थी। आधे घंटे तक मुठभेड़ चलने के बाद एक माओवादी ढेर हो गया जबकि अन्य साथी माओवादी जंगल का फायदा उठाकर भाग निकले। कोबरा टीम के द्वारा इलाके में सर्च अभियान चलाया जा रहा है।





सर्च अभियान में माओवादियों के खिलाफ कोबरा बटालियन के जवान को सफलता मिली है। अभियान के दौरान एक नक्सली का शव बरामद किया गया है। साथ ही एक एसएलआर और एक पिट्ठू बरामद किया गया है। इलाके में सर्च अभियान जारी है। सीआरपीएफ के आईजी संजय आनंद लाटकर ने घटना की पुष्टि की है।

उग्रवादियों ने पुलिस के खिलाफ विध्वंसक योजना बनायी थी: एसपी

खूंटी। जिला पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त कार्रवाई में रनिया थाना के डिगरी जंगल से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किये गये। शुक्रवार को अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा और सीआरपीएफ 94 बटालियन के कमांडेंट राज कुमार ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली कि पुलिस के खिलाफ विध्वंसक कार्रवाई के लिए डिगरी जंगल (खैरा गढ़ा टोली) में उग्रवादियों ने भारी मात्रा में विस्फोटक सामान छिपा रखे हैं।

नक्सलियों से मुठभेड़

नक्सलियों से बरामद विस्फोटक

सूचना के आलोक में एक संयुक्त छापामारी दल का गठन किया गया। इसमें सीआरपीएफ के सहायक कामंडेंट मुकुश कुमार, इंस्पेक्ट सावल रामए उसआई सुदर्शन मल्लिक व सशस्त्र बल को शामिल किया गया। पुलिस टीम को जंगल में डीएसएमडी द्वारा जांच करने पर जमीन के नीचे विस्फोटक होने की जानकारी मिली। उन्होंने बताया कि बरामद विस्फोटक में 127 पैकेट जिलेटिन, 44 डेटोनेटर और एक किलो गन पाउडर शामिल है।

पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, हथियार बरामद

पूर्वी सिंहभूम के गालुडीह थाना क्षेत्र स्थित कांसीडंगा गांव के ऊपर पहाड़ में शुक्रवार सुबह पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में दोनों ओर से कई राउंड गोलियां चली। हालांकि पुलिस का बढ़ता दबाव देख नक्सली मैदान छोड़कर भाग गए। नक्सलियों के ठिकाने से पुलिस ने हथियार सहित कई संदेहास्पद सामान भी बरामद किया है। पुलिस के अनुसार इस मुठभेड़ में एक नक्सली को गोली लगी है हालांकि मुठभेड़ के दौरान पुलिस को कोई नुकसान नही पहुंचा है।

इस संबंध में एसएसपी अनूप टी मैथ्यू ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी की गालूडीह थाना क्षेत्र स्थित कांसीडंगा गांव के उपर पहाड़ पर नक्सली मदन महतो, आकाश और सचिन का दस्ता 10-12 की संख्या में किसी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहा है। उसी सूचना पर एएसपी प्रणव आनन्द झा ने जिला बल और सीआरपीएफ की मदद से अभियान चलाया गया। अभियान दल सुबह के लगभग 9 बजे कासीडंगा जंगल पहुंचने पर माओवादी की ओर से अभियान दल को लक्षित करते हुए फायरिंग की गई।

अभियान दल में सुरक्षा की दृष्टिकोण से आत्मरक्षार्थ फायरिंग की। नक्सली अपने को कमजोर पाकर जंगल की ओर भाग निकले। उन्होंने कहा कि इस गोलीबारी में पुलिस को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। इस दौरान पुलिस ने एक एके 47 राइफल, मैगजीन-02, एके 47 का कारतूस-32 , बैनेट-1, 9 MM पिस्टल,01 ,9 एमएम का कारतूस -07 वाकी टॉकी -1, 20 लीटर का स्टील कंटेनर, पिट्टू-3, 9 एमएम मैगजीन 01, प्लास्टिक सीट-04 , यूनिफार्म 1 और दवा तथा अन्य दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद की है। इस अभियान का नेतृत्व एएसपी (अभियान)आनन्द झा ने किया।

Comments

Most Popular

To Top