CRPF

CRPF को जलील करने के वीडियो की ये है असलियत

विक्की बिस्वकर्मा

सम्बलपुर (ओडिशा)। कश्मीर में लोकसभा उपचुनाव के दौरान हाल ही में सोशल मीडिया पर छाए रहे उस वीडियो की असलियत सामने आई है जिसमें सीआरपीएफ (CRPF) के कुछ जवानों को लोग जलील कर रहे थे, हाथापाई कर रहे थे और पत्थर तक मार रहे थे। उनमें से एक जवान है ओडिशा के सम्बलपुर का विक्की बिस्वकर्मा।





विक्की बिस्वकर्मा

संबलपुर (ओडिशा) में अपने माता-पिता के साथ विक्की बिस्वकर्मा (फोटो साभार-डीएनए)

 

वीडियो देखकर हर किसी के जेहन में आ रहा था कि हथियारों से लैस ये जवान इतनी जलालत कैसे बर्दाश्त कर रहे हैं? क्यों वे उन उपद्रवियों को उनकी भाषा में ही जवाब नहीं दे रहे? ऐसी क्या मजबूरी थी? क्या उन्हें उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई करने से रोका गया था? क्या वे डर गए थे?

इन तमाम हालात पर जवान विक्की ने जो बताया वह कुछ इस तरह से है : असल में उपचुनाव के बाद मतदान केंद्र से इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (EVMs) सुरक्षित जगह पर ले जाने का काम उनकी टुकड़ी को मिला था। ये लोग मशीन के साथ पैदल जा रहे थे क्योंकि उस रास्ते से वाहन नहीं जा सकता था। रास्ते में ये उपद्रवी जवानों से भिड़ गए। ये लोग भारत विरोधी और पाकिस्तान समर्थक नारे लगा रहे थे।

विक्की बिस्वकर्मा

विक्की बिस्वकर्मा से इस तरह बदतमीजी की गई थी

विक्की का कहना है कि उन्होंने उसे भी (विक्की को) पाकिस्तान जिन्दाबाद बोलने को कहा लेकिन मैं ऐसा कैसे कर सकता था। मैं एक भारतीय हूँ और मेरा देश मेरे लिए सबसे पहले है। मैं देश के लिए जीता हूँ और देश के लिए मर सकता हूँ।

ये वीडियो रविवार का है जब श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र के बड़गाम से सुरक्षा बल पोलिंग बूथ से लौट रहे थे। जवानों के पास अत्याधुनिक हथियार और गोली-बारूद था लेकिन वे उपद्रवियों की हरकतों को खून का घूँट पीकर बर्दाश्त कर रहे थे। विक्की का कहना है कि उस वक्त प्राथमिकता थी वोटिंग मशीन को सुरक्षित ठिकाने पर पहुंचाना। यदि जवान कार्रवाई करते तो बवाल हो सकता था और उपद्रवी वोटिंग मशीनें तक लूट सकते थे। विक्की का कहना है कि हमें किसी भी हालात में सब्र रखना और शांत रहना भी सिखाया जाता है।

विक्की बिस्वकर्मा

जिस वक्त विक्की बिस्वकर्मा पर उपद्रवी हाथ छोड़ रहे थे उस वक्त उसके हाथ में EVM थी

विक्की की मां ने भी ये वीडियो देखा था। वह तब डर गई थी। ये स्वाभाविक भी था। विक्की की मां किरण बिस्वकर्मा कहती हैं : मुझे अपने बेटे पर गर्व है जिसने इतना सब्र दिखाया और जिसमें अपने देश के लिए इतना प्यार है।

केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने विक्की बिश्वकर्मा से बात की

भुवनेश्वर। जम्मू-कश्मीर में कार्य करने के समय वहां के लोगों द्वारा दुर्व्यवहार के शिकार होने वाले सीआरपीएफ के जवान विक्की बिश्वकर्मा के साथ केन्द्रीय पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने बातचीत की। श्री प्रधान ने ट्वीट कर यह जानकारी दी।

श्री प्रधान ने अपने ट्वीट पर कहा कि कर्तव्यनिष्ठा व राष्ट्र के प्रति समर्पण के भावना का साथ-साथ असीम धैर्य व सहनशीलता के लिए उन्होंने जवान विक्की का अभिनंदन किया। वह संबलपुर के शहर के रहने वाले हैं। कश्मीर के गुमराह युवकों का कार्य देशवासियों के धैर्य को प्रभावित नहीं कर सकता है यह उन्होंने प्रमाणित कर दिया है।

खबर साभार-डीएनए

Comments

Most Popular

To Top