CRPF

CRPF जवानों को अब मिलेंगी आधुनिक सुविधाएं

सीआरपीएफ की 72 बटालियन के कमांडेंट दिनेश ने शुभारंभ किया

रजौरी। जम्मू-कश्मीर के रजौरी जिले में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) की 72-बटालियन सुंदरबनी सोदर में एक आधुनिक टेस्ट-लैब का शुभारंभ किया गया। 72-बटालियन के कमांडेंट दिनेश ने सेमी ऑटो एनेलाइजर माइक्रो लैब के रूप में फीता काटकर इसका शुभारंभ किया। उन्होंने बताया कि यह जम्मू स्तर पर यह अपनी तरह की पहली लैब है।





गंभीर बीमारियों से बच सकेंगे जवान

मल्टी फंक्शनल सुविधाओं से लैस है आधुनिक लैब

मल्टी फंक्शनल सुविधाओं से लैस है आधुनिक लैब

इस लैब में उपलब्ध जांचों  के माध्यम से जवानों को गंभीर बीमारियों की चपेट में आने से बचाया जा सकेगा। इस लैब में सीआरपीएफ के जवानों व पूर्व जवानों को ब्लड शुगर, हीमोग्लोबिन, किडनी फंक्शन टेस्ट, यूरिन, लीवर आदि के टेस्ट की सुविधा मिल सकेगी। इसके आलावा मलेरिया माइक्रोस्कोपिंग टेस्ट भी मौजूद हैं।

माइक्रो टेस्टलैब में जांच कराते CRPF जवान

माइक्रो टेस्टलैब में जांच कराते CRPF जवान

यही नहीं, मल्टी फंक्शन लैब में जवानों के लिए डेंगू टेस्ट किट 24 घंटे उपलब्ध रहेगी, जो जवानों की ऑपरेशनल और एडमिनिस्ट्रेटिव क्षमताओं को बढ़ाने में मदद करेगी। उन्होंने बताया कि उम्मीद है कि बटालियन द्वारा उठाए गए इस कदम से जवानों को होने वाली बीमारियों को टेस्ट के माध्यम से बचाया जा सकेगा।

केंद्रीय बलों के लिए भी प्रस्तावित है माइक्रो लैब

आम नागरिक भी इस सुविधा का लाभ ले सकेंगे।

आम नागरिक भी इस सुविधा का लाभ ले सकेंगे।

उन्होंने बताया कि इससे पहले इस तरह की सुविधाओं की कमी की वजह से जवानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। इन बीमारियों की रोकथाम में अब मदद मिल सकेगी। अधिकारियों का कहना है कि फिलहाल रजौरी में स्थित इस लैब का लाभ पुंछ में तैनात CRPF जवान ही ले सकेंगे, लेकिन प्रस्तावित है कि भविष्य में केंद्रीय बलों के जवान भी इसका लाभ उठा सकेंगे। अधिकारियों का कहना है कि सीआरपीएफ द्वारा आम लोगों के लिए लगाए जाने वाले स्वास्थ्य शिविरों में भी इस आधुनिक लैब का इस्तेमाल किया जाएगा ताकि आम नागरिक भी इस सुविधा का पूरा लाभ उठा सकें।

Comments

Most Popular

To Top