Army

शहीद के परिवार को मिला 5 लाख का चेक बाउंस

शहीद के परिवार को चेक

पटना। छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों से मुठभेड़ में बिहार के शेखपुरा जिला स्थित फुलचोढ़ गांव के निवासी सीआरपीएफ के जवान रंजीत यादव की शहादत के बाद भी उनके परिवार वालों को दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही हैं। मामला जब मीडिया के माध्यम से सामने आया तो शहीद के पिता के खाते में रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (आरटीजीएस) के माध्यम से राशि स्थानांतरित कर दी गई।





दरअसल, शहादत के बाद बिहार सरकार द्वारा आश्रित विधवा को दी गई सहायता राशि का 5 लाख रुपये का चेक बाउंस हो गया है। इसकी जानकारी देते हुए पीड़ित सुनीता देवी ने बताया कि स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा 26 अप्रैल को 5 लाख रुपये का चेक मुहैया कराया गया था। यह चेक HDFC शेखपुरा स्थित बैंक खाते का था।

HDFC बैंक का है चेक

पीड़ित ने बताया कि चेक जमुई के अलीगंज स्थित SBI शाखा के अपने खाते में डाल दिया। लेकिन करीब एक हफ्ते बाद वहां के बैंककर्मियों द्वारा चेक बाउंस हो जाने की सूचना दी गई। पीड़िता ने बताया कि बैंक कर्मियों के मुताबिक HDFC के चेक में अंकित जिलाधिकारी दिनेश कुमार का साइन नहीं मिलने के कारण चेक बाउंस हुआ। इसके बाद लगातार उक्त राशि का भुगतान पाने के लिए वह बैंकों का चक्कर लगा रही है। पंद्रह दिन बाद भी शहीद के पीड़ितों की इस परेशानी को दूर करने की कोई ठोस पहल नहीं की जा सकी। लेकिन इसके बावजूद भी इसकी सुधि लेने वाला कोई नहीं है।

इस संबंध में डीएम ने संबंधित बैंक के मैनेजर से भी जवाब तलब किया है। शहीद अपने पीछे पत्नी सुनीता देवी, मां मानो देवी और पिता इन्द्रदेव यादव समेत दो बच्चों को छोड़ गए हैं।

Comments

Most Popular

To Top