Army

सुकमा हमले के 15 नक्सलियों को कब्जे में ले चुकी है CRPF

सीआरपीएफ

रायपुर। छत्तीसगढ़ के सुकमा में पिछले महीने नक्सली हमले के बाद केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) ने अभी तक कई छोटे-बड़े नक्सल विरोधी विशेष अभियानों को अंजाम देते हुए नक्सली गुटों के 26 लीडरों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है। सीआरपीएफ के महानिदेशक राजीव राय भटनागर ने बताया कि विशेष अभियानों में भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद होने के अलावा पकड़े गए 26 नक्सलियों में 15 माओवादी ऐसे है जो 24 अप्रैल को हुए सुकमा हमले में शामिल थे।





भटनागर ने बताया कि सीआरपीएफ के अभियानों का मुख्य फोकस दक्षिणी क्षेत्र में माओवादियों की ताकत और संसाधनों पर पकड़ को कमजोर करना है। उन्होंने कहा कि सुकमा हमले के बाद हमने दक्षिणी बस्तर इलाके में अपनी रणनीति को नए सिरे से तैयार पर खुफिया सूचनाओं पर आधारित अभियान चलाने पर ध्यान केंद्रित किया है। इन दिनों इस इलाके में भीषण गर्मी के बीच चाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान उन स्थानों पर केंद्रित हैं जिन्हें सुरक्षा के लिहाज से कमजोर माना गया है।

सीआरपीएफ-ऑपरेशन

CRPF ने नक्सलियों के खिलाफ कई ऑपरेशन को दिया अंजाम

 

इन इलाकों में नक्सलियों की पैठ कमजोर करने के लिए सीआरपीएफ ने सघन अभियान चलाया है। सुकमा हमले के दो दिन बाद महानिदेशक नियुक्त किए गए भटनागर ने बताया कि सीआरपीएफ के छत्तीसगढ़ के अधिकांश दूरदराज के इलाकों में सड़क निर्माण का काम पूरा कर लिया है। सुकमा हमले के बाद सीआरपीएफ ने 98 विशेष अभियान नक्सल हिंसा से सबसे ज्यादा प्रभावित इलाकों में चलाए हैं।

इन अभियानों की अगुवाई या तो सीआरपीएफ के हाथ में रही या घने जंगलों में गुरिल्ला युद्ध में सिद्धहस्त कोबरा इकाई के हाथ में होती है। ये अभियान सुकमा के अलावा करीगुंडम, मिनापा, कासलपाड़ा, मिलामपल्ली, टोकनपल्ली, फूलमपड, बेडापड, गौराराम, पलोदी, बाड़मोड़, पोटकपल्ली, अलीगुडा और रेगरगड्डा गांवों में  चलाए गए। इसके अलावा सुकमा के सीमावर्ती इलाकों में भी सीआरपीएफ ने 36 नक्सल विरोधी अभियान चलाए हैं। इनमें कुछ अभियान पड़ोसी जिले दंतेवाड़ा में चलाए गए हैं जबकि 55 अभियान बीजापुर जिले के ग्रामीण इलाकों और घने जंगलों में चलाए गए हैं।

सीआरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इन अभियानों की खाम बात यह रही कि इनमें राज्य पुलिस की सक्रिय और आवश्यक भागीदारी रही। इन अभियानों में स्थानीय पुलिस की एक तिहाई भागीदारी सुनिश्चित रखने के लक्ष्य को भी पूरा किया गया। इनमें 17 हथियारों, 4,304 कारतूस, 291 किलो विस्फोटक, दो ग्रेनेड, 85 आईईडी और 5,125 डेटोनेटर्स बरामद किए गए।

Comments

Most Popular

To Top