CISF

CISF ने हवाई अड्डे पर तैनात जवानों के लिए बनाए नए नियम

सीआईएसएफ-जवान

नई दिल्ली। दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट हवाई अड्डे (IGI) पर यात्रियों और जवानों के बीच मिली-भगत को देखते हुए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) ने नए दिशा निर्देश बनाए हैं। एयरपोर्ट पर तैनात जवानों को अब हर छह माह पर स्थानांतरित कर दिया जाएगा। एयरपोर्ट पर बढ़ती स्मगलिंग को देखते हुए नियम कड़े किए गए हैं। सीआईएसएफ के महानिदेशक ओ पी सिंह ने बताया कि जवानों को ड्यूटी के दौरान मोबाइल फोन रखने की पाबंदी होगी।





एयरपोर्ट-पर-जवान

एयरपोर्ट पर बढ़ते स्मगलिंग को देखते हुए CISF ने कड़े किए नियम (फाइल फोटो)

CISF के अधिकारियों और एयरपोर्ट ऑफिसरों के बीच हुई मीटिंग के बाद सभी 59 एयरपोर्ट्स को सूचित कर दिया गया है। मीटिंग के दौरान यह स्पष्ट कर दिया गया कि यदि किसी भी हवाई अड्डे पर सोने के तस्करों के साथ CISF के कर्मियों की भागीदारी पाई गई तो दल के यूनिट कमांडर को कार्रवाई का सामना करना होगा। हाल ही में चेन्नई, मुंबई, बेंगलुरु और कोच्चि के हवाई अड्डों पर, सीआईएसएफ के जवानों की मिलीभगत के साथ सोने की तस्करी की घटनाएं सामने आई हैं।

कुछ दिनों पहले, बैंगलुरु हवाई अड्डे पर राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) ने सोने के साथ तस्कर गिरफ्तार किए थे। इसी तरह, मुंबई और कोच्चि के हवाई अड्डों से भी कुछ ऐसे ही मामले सामने आए थे। जांच में पाया गया कि इन मामलों में सुरक्षा बल की छवि खराब हुई है, जिस देखते हुए सीआईएसएफ मुख्यालय ने यूनिट कमांडरों पर जिम्मेदारी तय करने का निर्णय लिया है। CISF के महानिदेशक के अनुसार, ‘हमारे बल से किसी के खिलाफ भ्रष्टाचार के कोई मामले आते हैं तो हमने शून्य सहिष्णुता की नीति अपनायी है।’

Comments

Most Popular

To Top