CISF

CISF ने लांच किया मोबाइल ऐप, रिजल्ट एक क्लिक पर

सीआईएसएफ

नई दिल्ली। सीआईएसएफ (CISF) 10 मार्च को अपनी स्थापना की 48वीं जयंती मनाएगा। उस दिन सीआईएसएफ परेड का आयोजन करेगा। यह जानकारी सीआईएसएफ के महानिदेशक (डीजी) ओपी सिंह ने एक संवाददाता सम्मेलन में दी। इस मौके पर महानिदेशक ने मोबाइल एप की शुरूआत की। इस एप से अब सीआईएसएफ का रिजल्ट एक क्लिक पर देख पायेंगे। इस एप में अपना नाम और रोल नम्बर लिखते ही आपकी पूरी जानकारी कम्पूयटर में आ जायेगी।  इस दौरान उन्होंने सीआईएसएफ द्वारा उपलब्धियों के बारे में बताया।





10 मार्च को होगा परेड का आयोजन

स्थापना दिवस के मौके पर सीआईएसएफ आगामी 10 मार्च को परेड का भी आयोजन कर रहा है। इस मौके पर डीजी ने कहा कि सीआईएसएफ इस समय दिल्ली के मेट्रो के साथ-साथ एयरपोर्ट की सुरक्षा में भी तैनात है। उनका कहना था कि सीआईएसएफ की स्थापना वर्ष 1969 में हुई थी, तब सीआईएसएफ के पास केवल तीन हजार जवान थे। अब सीआईएसएफ की कपंनी में कुल एक लाख 45 हजार जवान कार्यरत हैं।

उन्होंने बताया कि सीआईएसएफ औद्योगिक सुरक्षा के क्षेत्र में विश्व का सबसे बड़ा संगठित बल है। इसी के साथ ही सीआईएसएफ हवाई अड्डे, परमाणु संस्थान, अंतरिक्ष केंद्र, बंदरगाह, स्टील, विद्युत संयंत्र, दिल्ली मेट्रो, ऐतिहासिक इमारतों के साथ-साथ 310 उपक्रमों और संस्थानों को सुरक्षा प्रदान कर रहा है।

सीआईएसएफ को और आधुनिक बनाने की कोशिश

डीजी ने बताया कि इसी के चलते सीआईएसएफ को और भी आधुनिक बनाने की कोशिश की जा रही है। दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा का बहुत बड़ा दायित्व है। जिसे सीआईएसएफ ने बखूबी निभाया है और सीआईएसएफ संरक्षण और सुरक्षा के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने बताया कि सीआईएसएफ के जवान पूरे भारत में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इसी के साथ-साथ सीआईएसएफ भारत के कई निजी संस्थानों को भी सुरक्षा दे रही है।

Comments

Most Popular

To Top