BSF

BSF ने पाकिस्तानी रेंजर्स को नहीं बांटी मिठाई, सरहद पर भी तनाव के कारण आई ‘खटास’

वाघा बॉर्डर

अटारी। गणतंत्र दिवस के अवसर पर पिछले काफी वर्षों से सीमा पर बीएसएफ के जवान पाकिस्तानी रेंजर्स को मिठाई देते आए हैं। पर इस बार सरहद पर भारत और पाकिस्तान के बीच खटास देखने को मिली  क्योंकि बीएसएफ ने पाक रेंजर्स का मुंह मीठा नहीं कराया। पाकिस्तान की तरफ से लगातार सीजफायर उल्लंघन को इसकी एक वजह बताई जा रही है। जबकि बांग्लादेश के बॉर्डर गार्ड्स के जवानों को मिठाईंयां बांटी गईं।  बीएसएफ जवानों ने पश्चिम बंगाल से सटी फुलबारी पोस्ट पर बांग्लादेश बॉर्डर गार्ड्स के जवानों को मिठाई खिलाकर गणतंत्र दिवस का जश्न मनाया।





बीएसएफ के डीजी केके शर्मा के मुताबिक सीमा पर इन दिनों स्थिति ऐसी नहीं हैं कि पाकिस्तानी सैनिकों के साथ मिठाई बांटी जाए। पर मुझे इस बात की पूरी उम्मीद है कि आने वाले समय में सीमा पर स्थिति बेहतर होंगी और फिर से मिठाई देने की परंपरा आरंभ होगी। इस बार मिठाई न देने की अहम वजह सीजफायर का उल्लंघन है। अभी कुछ दिन पहले भारत और पाकिस्तान के बीच फ्लैग मीटिंग हुई थी। डीजी केके शर्मा ने कहा कि फ्लैग मीटिंग के दौरान प्रमुख मुद्दा सीजफायर उल्लंघन का रहा। इस मीटिंग के दौरान दोनों ही ओर से इस बात पर सहमति बनी है कि सीजफायर का उल्लंघन नहीं किया जाएगा। हालांकि बीएसएफ बॉर्डर पर कभी भी फायरिंग की शुरुआत नहीं करती है। हमारी तरफ से सीजफायर उल्लंघन नहीं किया जाता है।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार को भारत-पाक सीमा पर लगातार तनाव के मद्देनजर पाकिस्तान रेंजर्स और सीमा सुरक्षा बल के बीच फ्लैग मीटिंग हुई। इस मीटिंग में दोनों देशों के सेक्टर कमांडर स्तर के ऑफिसर्स शामिल हुए।

 

Comments

Most Popular

To Top