BSF

BSF ट्रेनिंग : पास में ही फट गया मोर्टार, छह जवान घायल

प्रशिक्षण के दौरान मोर्टार नजदीक गिरकर फटा

हजारीबाग। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) प्रशिक्षण केन्द्र एवं स्कूल के फील्ड फायरिंग रेंज में प्रशिक्षण के दौरान मोर्टार के नजदीक गिरकर फट जाने से तीन अधिकारी सहित 6 जवान घायल हो गए हैं। घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां सभी की स्थिति खतरे से बाहर बताई गई है। हालांकि इसमें से तीन गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। पिछले साल 29 जनवरी को जैसलमेर फायरिंग रेंज में भी अभ्यास के दौरान एक मोर्टार फटा था जिसमें बीएसएफ के एक जवान की मौत हो गई थी और तीन जवान जख्मी हो गए थे।





सभी अधिकारी व जवान बीएसएफ के नार्थ बंगाल फ्रंटियर के 167 बटालियन के

घायलों में बीएसएफ का सब इंस्पेक्टर गुलाम मोहम्मद, एएसआई छोटू सिंह, महावीर सिंह के अलावा जवान जयदेव दास, राकेश पल्लव एवं मारुति शंकर शामिल हैं। सभी अधिकारी व जवान बीएसएफ के नार्थ बंगाल फ्रंटियर के 167 बटालियन से जुड़े हैं। बीएसएफ के पदाधिकारियों ने बताया कि नार्थ बंगाल फ्रंटियर के बीएसएफ जवान अपने कमांडेंट नवीन कुमार के निर्देशन में बल के सीतागढा फील्ड फायरिंग रेंज में 81 एमएम मोर्टार की फायरिंग कर रहे थे। इसी क्रम में मोर्टार निर्धारित लक्ष्य तक न पहुंचकर शार्टफाल कर विस्फोट कर गया।

घायल जवान सदर अस्पताल हजारीबाग में भर्ती

घटना दिन के करीब 12.30 बजे की बताई गई है। इस घटना में मौके पर मौजूद बल के अधिकारी व जवान घायल हो गए। घटना स्थल पर ही मौजूद बटालियन के चिकित्सक डॉ रमेश कुमार एवं डॉ आरएन मांझी की टीम ने घायल जवानों की प्राथमिक चिकित्सा की। इसके बाद बेहतर इलाज के लिए घायल जवानों को सदर अस्पताल हजारीबाग में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायलों में एएसआई महावीर सिंह, जवान जयदेव दास एवं राकेश पल्लव शामिल हैं।

सूचना मिलने पर हजारीबाग के मेरु स्थित बीएसएफ के कमांडर बिनोद कुमार सिंह, कमांडर (मेडिकल) डॉ अनिल कुमार बरनवाल, हजारीबाग के एएसपी अभियान कुलदीप कुमार सहित कई अन्य अधिकारी अस्पताल पहुँचे और घायलों का हालचाल लिया। समाचार भेजे जाने तक सभी की हालत खतरे से बाहर बताई गई है। ज्ञात हो कि दो दिन पूर्व ही नार्थ बंगाल फ्रंटियर के बीएसएफ जवान फायरिंग प्रशिक्षण के लिए यहाँ पहुँचे थे।

Comments

Most Popular

To Top