BSF

फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट के बाद हिंसा, 400 जवान तैनात

BSF जवान पश्चिम बंगाल

कोलकाता। फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना जिले में सांप्रदायिक हिंसा भड़क गयी है, जिसके बाद राज्य सरकार ने स्थिति पर काबू पाने के लिए पुलिस की मदद के लिए सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के 400 जवान तैनात किए गए हैं। पुलिस ने बताया कि बसीरहाट अनुमंडल के बदुरिया में दो समुदायों के सदस्यों के बीच मंगलवार रात पोस्ट को लेकर झड़पें शुरू हुईं।





पैगम्बर मोहम्मद को लेकर की गई थी टिप्पणी

शुक्रवार को पैगम्बर मोहम्मद के बारे में फेसबुक पर हुए एक पोस्ट के बाद 24 परगना जिले के कई इलाकों में सांप्रदायिक हिंसा भड़क गई फेसबुक पर पोस्ट को डालने वाले बदुरिया के 17 साल के एक छात्र को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। बसीरहाट में अभी भी हालात बिगड़े हुए हैं बसीरहाट, स्वरुपनगर, बदुरिया और देगांग में तनाव के माहौल को देखते हुए बीएसएफ की चार कंपनियां तैनात की गई हैं। इसके अलावा इलाके में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई है और धारा 144 भी लगा दी गई है।

बसीरहाट में तैनात किए गए 400 जवान

पुलिस के अनुसार, कई स्थानों पर सड़कों को जाम कर दिया और लोगों पर हमला किया गया तथा कई दुकानों को निशाना बनाया। हालांकि, अभी किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है। बदुरिया में बुधवार को दुकाने बंद रहीं और आस-पास के बाजारों में तनाव फैल गया है। वहीं, BSF के अधिकारियों के अनुसार बल के दक्षिणी बंगाल फ्रंटियर से 400 जवान बसीरहाट सहित विभिन्न स्थानों पर तैनात किए गए हैं।

ममता बनर्जी का राज्यपाल पर आरोप

इस बीच एक अप्रत्याशित घटनाक्रम में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी पर उन्हें फोन पर धमकाने का आरोप लगाया और कहा कि वह बीजेपी के प्रखंड अध्यक्ष की तरह बर्ताव कर रहे हैं। ममता ने कहा कि मैं यहां किसी की दया पर नहीं हूं, उन्होंने जिस तरीके से मुझसे बातचीत की, एक बार तो मैंने कुर्सी छोड़ने की सोची। वहीं, राज्यपाल ने ममता के रूख और भाषा पर आश्चर्य जताते हुए कहा कि हमारी बातचीत में ऐसा कुछ नहीं हुआ, जिससे ममता बनर्जी को लगे कि उनकी बेइज्जती हुई या उन्हें धमकाया गया या उन्हें अपमानित किया गया।

Comments

Most Popular

To Top