Police

सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद डीजीपी सेनकुमार बहाल

डीजीपी-सेनकुमार

तिरुवनंतपुरम। सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद अगले दिन केरल सरकार ने आईपीएस टीपी सेनकुमार को पुलिस महानिदेशक (DGP) के पद पर बहाल कर दिया है। उन्हें डीजीपी (लॉ एंड ऑर्डर) बनाया है। उन्हें लोकनाथ बेहरा की जगह फिर से यह स्थान दिया गया है।





इससे पहले पांच मई को सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवहेलना किए जाने पर केरल सरकार को कोर्ट ने कड़ी फटकार लगाने के साथ-साथ 25 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया। सुप्रीम कोर्ट ने 24 अप्रैल को सेनकुमार को राज्य के डीजीपी पद पर बहाल करने का आदेश दिया था, लेकिन केरल सरकार आदेश पर अमल नहीं किया था। इस पर सेनकुमार ने राज्य सरकार को अवमानना का दोषी बताते हुए फिर से सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद केरल सरकार ने टीपी सेनकुमार की बहाली की

केरल में हाल ही में हुए चुनाव में कांग्रेस की सरकार चली गई और लेफ्ट फ्रंट की सरकार आई है। राज्य में राजनीतिक बदलाव के बाद सेनकुमार का तबादला कर दिया गया और लोकनाथ बेहरा को नया डीजीपी नियुक्त किया गया।

सुप्रीम कोर्ट ने 2006 में दिए अपने एक आदेश में साफ किया था कि किसी भी राज्य में डीजीपी पद की तैनाती कम से कम दो साल की होगी। कोर्ट का यह आदेश इसलिए था क्योंकि पुलिस के कामकाज में राजनीतिक दखल कम हो सके। लेकिन, सेनकुमार को पद पर तैनाती के एक साल की भीतर ही हटा दिया गया। सरकार की ओर से कहा गया है कि इसमें कोई सफाई नहीं दी जाएगी। टीपी सेनकुमार ने सुप्रीम कोर्ट के इसी आदेश के आधार पर राज्य सरकार को चुनौती दी थी।

Comments

Most Popular

To Top