Others

यूपी विधानसभा में मिला विस्फोटक पीईटीएन, NIA जांच की मांग

पीईटीएन

लखनऊ। यूपी विधानसभा के चालू सत्र के दौरान सदन में 12 जुलाई को सफेद रंग का संदिग्ध पाउडर मिलने से हड़कंप मच गया। फॉरेंसिक जांच में अभी तक ये साफ नहीं किया जा सका है कि आखिर पाउडर क्या है। यह पाउडर सदन में नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी से कुछ दूरी पर मिला। 150 ग्राम वजन के इस पाउडर को फॉरेंसिक लैब भेज दिया गया गया था। विस्फोटक मिलने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में कहा कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को मामले की जांच करनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘सुरक्षा के मामले में सभी को चौकन्ना रहने की जरूरत है।





PETN विस्फोटक होने का दावा

सूत्रों की मानें तो संदिग्ध विस्फोटक पेन्टा इराथ्रीटोल टेट्रानाइट्रेट (पीईटीएन) विस्फोटक होने का दावा किया जा रहा है। संदिग्ध पाउडर मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आपातकालीन सुरक्षा बैठक बुलाई है। सुरक्षा में इतनी बड़ी चूक होने के बाद विधानसभा में हड़कंप मच गया। तुरंत डॉग स्क्वॉड ने पूरे विधानसभा कक्ष को छाना और रात 12 बजे विधानसभा भवन बंद किया गया। सीएम का कहना है कि विधानसभा में काम कर रहे कर्मचारियों की जांच पुलिस को करनी चाहिए। साथ ही एनआईए को मामले की जांच करनी चाहिए, जो भी इसमें संलिप्त पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।’ साथ ही उन्होंने कहा कि सुरक्षा गाइडलाइन जारी की जानी चाहिए और सभी को सख्ती से उसका पालन करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि यह एक आतंकी साजिश भी हो सकती है, ऐसे में सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए जाने की जरूरत है।

मुख्यमंत्री ने बुलाई आपातकालीन सुरक्षा बैठक

यूपी विधानसभा के स्पीकर माता प्रसाद पांडेय ने कहा कि सुरक्षा के लिए प्रांतीय सशस्त्र सेना (पीएसी) और क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) को विधानसभा में तैनात किय जाएगा। वहीं दूसरी तरफ विपक्ष ने राज्य सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक, सीएम सिक्यॉरिटी से जुड़े लोगों को विधानसभा हॉल के भीतर सबसे पहले इस पाउडर के होने का पता चला था। उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ को जानकारी दी। हालांकि, मौके से डेटोनेटर नहीं मिला है। सीएम ने शाम चार बजे कमरा संख्या-15 में वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक बुलाई और सुरक्षा खामियों के चलते अधिकारियों को फटकार भी लगाई

Comments

Most Popular

To Top