Others

कश्मीरियों को भड़काने में लगा आतंकी संगठन IS, कहा- भारत और पाकिस्तान के जवानों के काटो सिर

आईएस आतंकी

श्रीनगर। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट अब कश्मीरियों को उकसा रहा है। आईएस ने अपनी मैगजीन में एक आर्टिकल लिखा है। एक अंग्रेजी अखबार के अनुसार रुमैया नाम की मैगजीन में कश्मीरी मुसलमानों से कहा गया है कि वह खलीफा के तहत अपनी लड़ाई फिर से शुरू करें और बीच में आने वाली भारत और पाकिस्तानी सेनाओं के सिर कलम कर दें। यह आर्टिकल असम में उर्दू भाषा में प्रकाशित हुआ है, पर कश्मीर के आईएस समर्थित मीडिया समूह ‘अल करार’ ने एक टेलीग्राम पोस्ट में 1 दिसंबर को कश्मीरी मुसलमान से कहा कि वह रॉ और आईएसआई के जासूसों द्वारा बेवकूफ न बनें।





रुमैया में कहा गया कि दोनों एजेंसियों के जासूसों को मार डालें। एसआईटीई इंटेलिजेंस ग्रुप की वेबसाइट पर अपलोड हुई इस पोस्ट में आर्टिकल के हवाले से कहा गया कि अगर उनके नाम मुस्लिम नामों से मिलते हैं, तो वह धर्म को त्याग चुके हैं। इससे पहले कि भेड़ की खाल में छिपे ये भेड़िए आप पर हमला करें, उनके सिर उड़ा दो। आर्टिकल में प्रजातंत्र को अस्वीकार और आईएस लीडर अबू बकर अल-बगदादी के प्रति निष्ठा दिखाने को भी कहा गया है। इस लेख के अनुसार कश्मीरी लोगों के साथ भारत और पाकिस्तान दोनों ने 1947 से लगातार धोखा दिया है।

लेख में लिखा है कि कश्मीरियों से सेना के खिलाफ लड़ने, आमने-सामने की लड़ाई में जवानों के सिर काटने, आत्मघाती हमलों में उन्हें मारने जैसी हिंसक अपील की गई है। कश्मीरी मुसलमानों को रॉ और आईएसआई के जासूसों की पहचान उजागर करने को भी कहा गया है।

Comments

Most Popular

To Top