Others

INFANTRY DAY : सेना की रीढ़ हैं पैदल सैनिक, जानिए 9 खास बातें

ब्रिटिश फील्ड-मार्शल अर्ल वावेल ने कहा है, ‘सभी लड़ाइयां और सभी युद्ध आखिरकार इन्फेंट्रीमैन (पैदल सैनिकों) द्वारा ही जीते गए हैं।’ यकीनन इन्फेंट्रीमैन किसी देश की सेना के वे आक्रामक सैनिक हैं, जिन्हें युद्ध के मैदान में दुश्मन के खिलाफ पैदल और आमने-सामने लड़ने के लिए विशेष रूप से प्रशिक्षित किया जाता है। ये अपने देश की रक्षा के लिए अपनी जान की परवाह किये बिना वतन की आन-बान-शान पर अपना सर्वस्व लुटा देते हैं। पैदल सेना की विभिन्न रेजीमेंट हैं जिनके दम पर ही सेना अखंडता में एकता की मिसाल पेश करती है। पैदल सेना हर वर्ष 27 अक्टूबर को इन्फेंट्री डे सेलिब्रेट करती है इस खास मौके पर हम आपको बता रहे है सेना की इन्फेंट्री से जुड़ी कुछ खास बातें..





तो इसलिए मनाया जाता है ‘पैदल सेना दिवस’ 

 

आज, 27 अक्टूबर 2018 को भारत अपने 72 वें पैदल सेना दिवस का जश्न मना रहा है। वर्ष 1947 में जब जम्मू और कश्मीर में पाकिस्तानी सेना ने हमला किया था, तब भारतीय सेना की पहला इन्फेंट्री रेजिमेंट,1 सिख इन्फेंट्री बटालियन, श्रीनगर फील्ड में उतरी और दुश्मन से कश्मीर घाटी को आजाद कराने के लिए एक साहसिक युद्ध लड़ा। इन्फेंट्री द्वारा इस वीरता के जश्न को मनाने के लिए, 27 अक्टूबर को ‘इन्फेंट्री डे’ के रूप में मनाया जाता है।

Comments

Most Popular

To Top