HOME GUARDS

बिहार के 32 हजार होमगार्ड जवान हड़ताल पर, सरकार से वार्ता विफल

होमगार्ड

पटना। बिहार रक्षा वाहिनी स्वयं सेवक संघ के आहृवान पर 32 हजार होमगार्ड जवानों की हड़ताल 16 वें दिन भी जारी रही। 28 मार्च को पटना में होमगार्ड जवानों के आक्रोश मार्च की तैयारी देख आंदोलन समाप्त कराने के लिए गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी और संघ के प्रतिनिधियों की वार्ता रविवार को विफल हो गई।





संघ के अध्यक्ष अरुण कुमार ठाकुर ने आरोप लगाया कि सुबहानी ने उनकी एक न सुनी। लगभग 20 मिनट की वार्ता में विधानसभा के चलते सत्र के समय 28 मार्च को आक्रोश मार्च की तैयारी पर सरकार की ओर से कड़ी नाराजगी जताते हुए इसके ​विरुद्ध दमनात्मक कार्रवाई की धमकी दी गयी।

ठाकुर ने बताया कि प्रदेश में 72 हजार निबंधित होमगार्ड है हैं। 32 हजार होमगार्ड की 400 रुपये दैनिक पारिश्रमिक पर ड्यूटी लगती है। सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट के फैसले के आलोक में पुलिस की तरह होमगार्ड को सुविधाओं की मांग लेकर 32 हजार जवान रायफल लौटाकर हड़ताल पर हैं। वे पुलिस की नौकरी नहीं मांग रहे हैं। पुलिस के जवानों के साथ वे भी काम करते हैं। इसके कारण वे समान सुविधायें देने यथा दैनिक पारिश्रमिक एवं अन्य सुविधायें मांग रहे हैं। कई अन्य प्रदेशों में ये सुविधायें मिल रही हैं।

Comments

Most Popular

To Top