HOME GUARDS

होम गार्ड (HOME GUARD)

होमगार्डस अर्धसैनिक बल है जो भारतीय पुलिस के लिए सहायक के तौर में काम करने की जिम्मेदारी निभाता है। भारत-चीन युद्ध के बाद 1962 में भारत में पुनर्गठित किया गया था।

गठन- 1962





होमगार्ड कर्मियों की संख्या- 1,325,000

हेडक्वाटर्स- राज्यों में मुख्यालय

होम गार्ड अर्धसैनिक बल है जो भारतीय पुलिस के लिए बतौर सहायक जिम्मेदारी निभाता है। भारत-चीन युद्ध के बाद 1962 में इसे पुनर्गठित किया गया था। ट्रैफिक व्यवस्था से लेकर बलवा नियंत्रण तक में इनकी अहम भूमिका होती है।

सरकार जल्द ही होम गार्डस को अत्याधुनिक हथियारों से लैस करने जा रही है। सूत्रों के मुताबिक, सरकार ने होमगार्डस को इनसास रायफल से लैस करने का फैसला किया है। होमगार्ड के जवानों को अत्याधुनिक हथियार चलाने का बाकायदा प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

आपदा राहत कार्यों में भी होमगार्ड को बुलाया जाता है। इससे आपदा राहत बल के जवानों की तादाद बढ़ जाती है। होमगार्ड को आपदा राहत कार्यों के लिए प्रशिक्षिण दिया जाता है ताकि ऐसी किसी भी हालात का सामना बखूबी कर सके।

आपातकालीन स्थिति से निपटने में जब पुलिस बल की कमी हो या फिर चुनाव के दौरान अत्याधिक पुलिस बल की जरूरत हो तो उस वक्त सीधे या परोक्ष रूप से सुरक्षा के मद्देनजर हर चुनौती से निपटने के लिए होमगार्ड के जवान को ड्यूटी पर लगाया जाता है।

Comments

Most Popular

To Top