Others

फुरसत में : गब्बर से पहले फौजी बने थे अमजद खान, उनके बारे में जानिए 10 रोचक बातें

अमजद खान का नाम लेते ही डाकू ‘गब्बर सिंह’ की छवि कौंधती है। वस्तुतः ‘शोले’ फिल्म में गब्बर सिंह के रूप में अमजद खान ने अभिनय की ऐसी लकीर खींच दी जिसे न तो कोई दूसरा पार कर पाया और न खुद अमजद खान। ढेरों फिल्मों में उन्होंने खलनायक की भूमिकाएं निभाईं। हालांकि कुछ फिल्मों में वह पुलिस इंस्पेक्टर के रोल में भी नजर आए। बाद के वर्षों में वह वकील से लेकर आम आदमी को साकार करते भी दिखे। लेकिन क्या आप जानते हैं कि वह वर्ष 1975 में आई ‘शोले’ फिल्म में गब्बर सिंह बनने से पहले परदे पर फौजी बनकर भी उतर चुके थे। आज हम आपको अमजद खान की कुछ ऐसी ही भूमिकाओं के बारे में बता रहे हैं जिनमें वह खलनायक नहीं थे। साथ ही उनके बारे में कुछ रोचक तथ्य भीः





‘हिन्दुस्तान की कसम’ में बने पायलट

हिंदुस्तान की कसम

अपने जमाने के धाकड़ अभिनेता जयंत (जकारिया खान) के घर 12 नवंबर 1940 को जन्मे अमजद खान ने कुछ फिल्मों में बाल अभिनेता के रूप में काम किया। साठ के दशक में कुछ फिल्मों में उन्होंने सहायक निर्देशक का का काम भी किया। वर्ष 1973 में वह निर्देशक चेतन आनंद की फिल्म ‘हिन्दुस्तान की कसम’ में वह एयरफोर्स के पायलट के रूप में नजर आए। राजकुमार, बलराज साहनी, विजय आनंद, परीक्षित साहनी सरीखे अभिनेताओं के बीच अमजद खान भी छोटी सी भूमिका में थे। हालांकि इस फिल्म से उन्हें कोई फायदा नहीं हुआ।

Comments

Most Popular

To Top