Listicles

फुरसत में : दिलीप कुमार का प्रशंसक जो क्रांतिकारी भी बना और फौजी भी, जानें 10 खास बातें

देशभक्ति की फिल्मों की जब भी चर्चा होती है तो मनोज कुमार जरूर केन्द्र में होते हैं। साठ और सत्तर के दशक में कई फिल्मों में निभाए उनके किरदारों की वजह से लोगों में वह भारत कुमार के नाम से लोकप्रिय हो गए थे। उस दौर के बहुत से दर्शक तो उनका न फिल्मी नाम (मनोज कुमार) जानते और न असली नाम। खैर उनका असली नाम तो बहुत से लोग आज भी नहीं जानते। आज हम आपको बता रहे हैं कि कैसे उनका नाम भारत कुमार पड़ा और कैसे उन्होंने अपना नाम मनोज कुमार रखा। इसके अलावा उनके बारे में और भी कुछ अनजाने तथ्य़।





फिल्म ‘शबनम’ देख बने दिलीप कुमार के प्रशंसक और ढूंढ लिया अपना नया नाम

बात 1949 की है। उस वक्त एक 11-12 बरस के बच्चे को एक फिल्म देखने का मौका मिला। फिल्म थी ‘शबनम’। दिलीप कुमार फिल्म के नायक थे। दिलीप कुमार को पर्दे पर एक्टिंग करता देख वह बच्चा इतना अभिभूत हो गया कि उसने तय कर लिया कि वह भी एक्टर बनेगा। वह बालक था हरिकृष्ण गोस्वामी। यही बच्चा जब जवान हुआ और पचास के दशक के उत्तरार्ध में जब फिल्मों में उसने प्रवेश किया तो अपना नाम मनोज कुमार कर लिया। मनोज नाम रखने के पीछे वजह थी वही फिल्म ‘शबनम’। दरअसल ‘शबनम’ में दिलीप कुमार ने मनोज नाम के युवक की भूमिका निभाई थी और इतने बरस बाद भी हरिकृष्ण गोस्वामी के दिलोदिमाग पर मनोज नामक किरदार छाया हुआ था।

Comments

Most Popular

To Top