Career

अब पहली बार मिलेगा सैनिक स्कूल में बेटियों को दाखिला

सैनिक स्कूल

लखनऊ। देश के पहले सैनिक स्कूल का दर्जा प्राप्त ‘यूपी सैनिक स्कूल’ अब एक नए आयाम में ढलने को तैयार है। जहां अब तक बेटों को ही सेना के तीनों विंग्स का ऑफिसर बनाने का दर्जा हासिल था वहीं अब यूपी सैनिक स्कूल में बेटियों को भी दाखिला मिलेगा। इस स्कूल में बेटियों के एडमिशन अप्रैल से आरंभ हो जाएंगे। इसका फॉर्म 25 सितंबर से ऑनलाइन भरा जाएगा, जबकि शैक्षिक सत्र अप्रैल, 2018 से शुरू होगा।





यूपी सैनिक स्कूल की स्थापना 1960 में हुई। उस वक्त यह देश का पहला सैनिक स्कूल था। आज देश में 25 सैनिक स्कूल हैं। इनमें यूपी सैनिक स्कूल ही एकमात्र संस्थान है जो राज्य सरकार के अधीन है। जबकि अन्य सैनिक स्कूलों पर रक्षा मंत्रालय और केंद्र सरकार का नियंत्रण है। यूपी सैनिक स्कूल से पढ़ने के बाद अब तक 1,500 छात्र कैडेट देश की सेना के तीनों अंगों में ऑफिसर का मुकाम हासिल कर चुके हैं।

एडमिशन फॉर्म ऑनलाइन मिलेंगे

  • स्कूल में लड़कों के लिए क्लास- 7 और लड़कियों के लिए क्लास- 9 के लिए एडमिशन फॉर्म 25 सितंबर से ऑनलाइन उपलब्ध होंगे। विद्यालय की वेबसाइट www.upsainikschool.org पर आवेदन फॉर्म भरना होगा। एपलिकेशन फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर है।
  • क्लास- 9 में एडमिशन के लिए लड़कियों की उम्र न्यूनतम साढ़े 12 वर्ष और अधिकतम 14 वर्ष होनी चाहिए।
  • एडमिशन के लिए तीन चरणों से गुजरना होगा। प्रवेश परीक्षा राज्य के नौ केंद्रों पर होगी। इंटरव्यू के बाद मेडिकल जांच होगी। इसके बाद एडमिशन के मद्देनजर मेरिट लिस्ट निकाली जाएगी।
  • प्रधानाचार्य यूपी सैनिक स्कूल कर्नल अमित चटर्जी के मुताबिक लड़कियों के लिए यह एक सुनहरा अवसर होगा क्योंकि अब उनके पास NDA के साथ ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी और NCC में डायरेक्ट एंट्री जैसे बेहतर मौकें हैं।

Comments

Most Popular

To Top