Anya Smachar

छेड़खानी की शिकायत पर ट्विटर पर ही लिया एक्शन

यूपी कैबिनेट

कानपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य में महिला-सुरक्षा के मामले में कोई कोताही नहीं बरतते दिखाई दे रहे। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि दबंगों से छेड़खानी की शिकार महिलाओं के परिजनों ने उन्हें ट्वीट कर शिकायत दर्ज कराई और उन्होंने तुरंत कार्रवाई का आदेश दे दिया।





पुलिस ने जानकारी दी कि होली के दिन कुछ स्थानीय युवक नशे में धुत होकर कल्याणपुर थाना क्षेत्राधिकार के अम्बेडकर पुरम गांव के एक घर में घुसे और एक महिला और उसकी बेटियों के साथ छेड़छाड़ करने लगे। महिला के पति ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट करने लगे।

महिला का पति कल्याणपुर थाने पहुंचा, पुलिस ने शिकायत दर्ज कर ली। हालांकि शिकायतकर्ता का कहना है कि मामले की जांच को लेकर पुलिस का रवैया ढीला रहा। पुलिस की ढिलाई को देखते हुए उन्होंने डीजीपी और सीएम कार्यालय को ट्वीट कर मदद की गुहार लगाई। इसके बाद पुलिस हरकत में आई।

एसपी सचिंद्र पटेल ने बताया कि मामले में डीजीपी ने सीधा फोन किया और तुरंत रिपोर्ट सौंपने को कहा। उन्होंने बताया कि वह खुद परिवार से मिले और मेडिकल जांच की व्यवस्था करवाई गई। उन्होंने यह भी बताया कि पहले तो आरोपियों के खिलाफ मारपीट और गालीगलौज का मामला दर्ज किया गया था, अब कुछ अन्य धाराओं में भी केस दर्ज हुए हैं।

आनन-फानन में आरोपियों की धर-पकड़ के लिए तीन पुलिस टीमें बनाई गई हैं और पीड़ित परिवार को सुरक्षा प्रदान की गई है। पीड़ित की शिकायत पर त्वरित मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपी की तलाश शुरू कर दी गई। यहीं नहीं शिकायत के बाद कार्रवाई में हीलाहवाली किए जाने के मामले में बुधवार को चौकी इंचार्ज विनोद कुशवाहा व सिपाही सतेन्द्र यादव को लाइन हाजिर कर दिया गया।

कार्यवाहक एसएसपी सचिन्द्र पटेल ने बताया कि पुलिस कर्मियों की भूमिका को लेकर जांच की जा रही है। आरोपी की गिरफ्तारी के साथ पीड़ित युवतियों को हर संभव न्याय दिलाया जाएगा।

Comments

Most Popular

To Top