Anya Smachar

परमाणु हथियार सुरक्षा के लिए जरूरी : अमेरिका

अमेरिकी राजदूत निकी हेली

संयुक्त राष्ट्र (न्यू यॉर्क)। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के स्थायी सदस्यों ने सोमवार को परमाणु हथियारों पर प्रतिबंध लगाने संबंधी चर्चा का बहिष्कार किया, जबकि 120 से देशों ने इसका समर्थन किया। यह जानकारी मंगलवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।





बीबीसी के अनुसार, अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस समेत करीब 40 देश नई संधि पर चर्चा को लेकर बुलाई गई संयुक्त राष्ट्र की बैठक में शामिल नहीं हुए। संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निकी हेली का कहना है कि बुरे तत्वों पर भरोसा नहीं किया जा सकता है इसलिए राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए परमाणु हथियार जरूरी है।

उन्होंने आगे कहा, ‘मैं अपने परिवार के लिए परमाणु हथियार विहीन दुनिया से ज्यादा कुछ नहीं चाहूंगी, लेकिन हमें यथार्थवादी होना पड़ेगा. क्या कोई ऐसा है जो यह मानता हो कि उत्तर कोरिया परमाणु हथियारों पर प्रतिबंध लगाने के लिए तैयार होगा?’

उल्लेखनीय है कि चीन समेत अंतर्राष्ट्रीय चेतावनी के बावजूद उत्तर कोरिया ने परमाणु और प्रक्षेपास्त्र तकनीकी का परीक्षण किया है। वैसे गत साल अक्टूबर महीने में संयुक्त राष्ट्र के एक सम्मेलन में परमाणु हथियारों पर वैधिक प्रतिबंध लगाने की संधि पर चर्चा की घोषणा की गई थी। उस समय भी ब्रिटेन, रूस, फ्रांस, इजराइल और अमेरिका ने प्रतिबंध संधि के विरोध में मतदान किया था, जबकि भारत, चीन और पाकिस्तान ने मतदान में भाग नहीं लिया था। इतना ही नहीं परमाणु हमला झेल चुके जापान ने भी बातचीत के खिलाफ मतदान किया था।

Comments

Most Popular

To Top