Anya Smachar

यह है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की टीम

लखनऊ: योगी आदित्यनाथ ने रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में पदभार सम्भाल लिया है। कांशीराम स्मृति उपवन में योगी को मुख्यमंत्री और केशव प्रसाद मौर्य और डॉ. दिनेश शर्मा को उप मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलायी गयी। इसके बाद 22 कैबिनेट, 09 राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और 13 राज्य मंत्रियों ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली।





कैबिनेट मंत्री

  • सूर्य प्रताप शाही
  • सुरेश खन्ना
  • स्वामी प्रसाद मौर्य
  • सतीश महाना
  • राजेश अग्रवाल
  • रीता बहुगुणा जोशी
  • दारा सिंह चौहान
  • धरमपाल सिंह
  • एस.पी. सिंह बघेल
  • सत्यदेव पचौरी
  • रमापति शास्त्री
  • जय प्रताप सिंह
  • ओमप्रकाश राजभर
  • बृजेश पाठक
  • लक्ष्मी नारायण चौधरी
  • चेतन चौहान
  • श्रीकान्त शर्मा
  • राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘मोती सिंह’’
  • सिद्धार्थनाथ सिंह
  • मुकुट बिहारी वर्मा
  • आशुतोष टण्डन
  • नन्द कमार नन्दी

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

  • अनुपमा जायसवाल
  • सुरेश राणा
  • उपेन्द्र तिवारी
  • डॉ. महेन्द्र सिंह
  • स्वतंत्र देव सिंह
  • भूपेन्द्र सिंह चौधरी
  • धरम सिंह सैनी
  • अनिल राजभर
  • स्वाति सिंह

राज्य मंत्री

  • गुलाब देवी
  • जय प्रकाश निषाद
  • अर्चना पाण्डे
  • जय कुमार सिंह जैकी
  • अतुल गर्ग
  • रणवेन्द्र प्रताप सिंह ‘‘धुन्नी सिंह’’
  • नीलकंठ तिवारी
  • मोहसिन रजा
  • गिरीश यादव
  • बदलेव ओलख
  • मनोहर लाल पंथ ‘‘मन्नु कोरी’’
  • संदीप सिंह
  • सुरेश पासी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शपथ ग्रहण समारोह के बाद प्रेस कन्फ्रेस में अपनी सरकार का एजेंडा बताया। प्रेस कान्फ्रेंस में उन्होंने बीजेपी के घोषणा-पत्र से जुड़े सारे वादे पूरा करने की बात कही, साथ ही उन्होंने, भ्रष्टाचार, रोजगार, शिक्षा, कानून व्यवस्था पर अपनी सरकार की प्राथमिकता बताई।

यूपी के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की मां व पिता

योगी आदित्य नाथ की मां सावित्री देवी और पिता आनन्द सिंह बिष्ट पौड़ी गढ़वाल में अपने गाँव पंचूर स्थित अपने घर में

प्रेस कॉन्फ्रेंस में योगी ने क्या कहा

  • पीएम मोदी के कुशल नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने सबका साथ सबका विकास का संकल्प लिया है, उसका अनुसरण करते हुए प्रदेश सरकार जनता की सेवा करेगी।
  • बीजेपी ने चुनावी संकल्प पत्र में जो भी वादे किए थे, उसे पूरा किया जाएगा।
  • यूपी पण्डित दीनदयाल उपाध्याय की जन्मभूमि और कर्मभूमि है, हम उनके अंत्योदय के सपने को पूरा करेंगे।
  • विकास और सुशासन के लिए प्रदेश की जनता ने हमें समर्थन दिया है।
  • हम आश्वस्त करना चाहते हैं, यह सरकार प्रदेश को विकास के रास्ते पर लाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी।
  • पिछले 15 वर्षों में उत्तर प्रदेश विकास की दौड़ में पिछड़ा गया है।
  • यहां पर काबिज सरकारों के भ्रष्टाचार, परिवारवाद और कानून व्यवस्था की बदहाल स्थिति की वजह से जनता को भारी नुकसान पहुंचा है।
  • हमारी सरकार आम जनता के कल्याण के लिए अवलिम्ब कार्यवाही शुरू करेगी।
  • हमारी सरकार लोक कल्याण के समर्पित होगी और बिना किसी भेदभाव के सभी वर्गों के लिए काम किया जायेगा।
  • प्रशासन को जवाबदेह बनाया जायेगा। सरकार भोजन, आवास, सड़क पेयजल जैसे बुनियादी जरूरतों पर ध्यान देगी और कानून व्यवस्था को चाक चौबन्द रखने के लिए पूरी सजगता से काम करेगी।
  • शिक्षा के उन्नयन, युवाओं को रोजगार, स्वास्थ्य, बेहतर परिवहन, गरीब, पिछड़ों के कल्याण के लिए काम किया जायेगा।
  • हमारी सरकार सुनिश्चित करेगी कि कृषि अर्थव्यवस्था का आधार बने। महिला सशक्तिकरण के लिए काम करेंगे।
  • महिलाओं को समान अवसर देने का हरसम्भव प्रयास किये जायेंगे, सरकार कोई कसर बाकी नहीं रखेगी।
  • प्रदेश में बदहाल कुशासन का खामियाजा युवाओं को भुगतना पड़ा है। इसलिए हम कौशल विकास मिशन के लिए उन्हें रोजगार मुहैया कराने का प्रयास करेंगे।
  • सरकारी नौकरी की भर्ती प्रक्रिया को भ्रष्टाचार विहीन बनाया जायेगा।
  • प्रदेश में निवेश के प्रयास किए जायेंगे, जिससे आर्थिक विकास के साथ नौजवानों को राज्य में ही रोजगार प्राप्त होगा।
  • खेतीहर मजदूर या किसान के उन्नयन, उनकी आय को दोगुना करने, युवाओं के रोजगार सृजन के लिए कदम उठाने सहित सभी चुनावी वादें पूरे करने जा रहे हैं।
  • पूर्वांचल विकास बोर्ड और बुन्देलखण्ड विकास बोर्ड बनाने की बात कही है। हम उसे शत प्रतिशत क्रियान्वित करेंगे।

15 दिन के भीतर सभी मंत्री देंगे अपने सम्पत्ति का ब्योरा

कैबिनेट मंत्री श्रीकान्त ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मंत्रियों से अपनी चल-अचल सम्पत्ति का ब्योरा 15 दिन में देने को कहा है। इसके साथ ही उन्होंने सभी नेताओं को ऐसे किसी भी मुद्दे पर टिप्पणी करने से बचने की सलाह दी है, जिससे किसी की भावना आहत हो। उन्होंने कहा कि हम भ्रष्टाचार और कानून व्यवस्था पर जीरो टालरेंस नीति अपनायेंगे।

Comments

Most Popular

To Top