Anya Smachar

पैन कार्ड को आधार से जोड़ने के फैसले पर रोक

aadhaar

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने पैन को आधार नंबर से जोड़ने की अनिवार्यता वाले केंद्र सरकार के आदेश पर रोक लगा दी है। जस्टिस अशोक भूषण की बेंच ने इस पर फैसला सुनाते हुए कहा है कि जब तक इस मामले में संवैधानिक बेंच कोई फैसला नहीं लेती, तब तक इस पर रोक लगाई जाती है। इस फैसले के बाद से इनकम टैक्‍स फाइल करने के लिए आधार अनिवार्य नहीं होगा। जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की बेंच ने शुक्रवार को ये फैसला सुनाया।





आयकर रिटर्न और पैन कार्ड के लिए अनिवार्य किया गया था आधार नंबर

इनकम टैक्स रिटर्न और पैन कार्ड के लिए आधार कार्ड अनिवार्य होने का नियम 1 जुलाई से लागू होने जा रहा था। साथ ही आयकर कानून के तहत आयकर रिटर्न और पैन कार्ड के लिए आधार नंबर का होना अनिवार्य किया गया था। जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की बेंच ने 4 मई को इस मामले की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा था।

विनय विसमन ने दाखिल की थी याचिका

आधार कार्ड को लेकर सुप्रीम कोर्ट में कई याचिकाएं दाखिल की गई थीं। इनमें IT एक्ट के सेक्शन 139AA को चुनौती दी गई थी। इस एक्ट के मुताबिक, इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए आधार कार्ड जरूरी है। इसी तरह पैन कार्ड बनवाने के लिए भी आधार को जरूरी किया गया है। इस मामले में याचिकाकर्ता भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के नेता विनय विसमन भी शामिल थे। उनकी तरफ से वरिष्ठ अधिवक्ता अरविन्द दातार खंडपीठ के समक्ष पेश हुए थे।

Comments

Most Popular

To Top