Anya Smachar

गोवा : मनोहर पर्रिकर सरकार ने जीता विश्वास मत

सीएम मनोहर पर्रिकर

पणजी। मनोहर पर्रिकर ने गोवा विधानसभा में विश्वास मत जीत लिया है। गुरुवार को विधानसभा में हुए फ्लोर टेस्ट में पर्रिकर को 22 विधायकों का समर्थन मिला। इसके साथ ही अब राज्य में बीजेपी की सरकार बनी रहेगी, वहीं कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। एक कांग्रेसी विधायक, विश्वजीत राणे ने वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया।





शक्ति परीक्षण में जीत हासिल करने के बाद पर्रिकर ने कहा कि हमने देश की जनता का विश्वास जीता है। बीजेपी को कुल 22 विधायकों का समर्थन हासिल था, जिसे हमने सदन में सिद्ध भी कर दिया है। कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के आरोपों पर पर्रिकर ने कहा कि वह शुरू से ही गलतबयानी कर रहे थे। शक्ति परीक्षण के परिणाम से साफ हो चुका है कि कांग्रेस के दावों में दम नहीं था। गोवा में बीजेपी सरकार बनने के बाद से ही आरोप लगाए जा रहे थे, हकीकत ये है जो लोग खास रंग से चीजों को देखते हैं उन्हें सब कुछ वैसा ही दिखाई देता है। सभी विधायक स्वेच्छा से आए और सरकार के पक्ष में मतदान किया। किसी विधायक को किसी होटल में कैद कर नहीं रखा गया था।

विश्वास मत शुरू होते ही सभी समर्थक विधायक पर्रिकर की तरफ नजर आए। विश्वास मत शुरू होने से पहले विधानसभा में नवनिर्वाचित विधायकों को शपथ ग्रहण करवाई गई। बता दें कि राज्य में बीजेपी को सरकार बनाने का निमंत्रण मिलने के बाद कांग्रेस खरीद फरोख्त का आरोप लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट गई थी जिसके बाद अदालत ने कहा था कि पर्रिकर विधानसभा में अपना समर्थन साबित करें।

इससे पहले पर्रिकर ने कहा था कि उनके पास 22 विधायकों का समर्थन है, जो 40 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के जादुई आंकड़े (21) से ज्यादा है।

उन्हें अपने सहयोगियों गोवा फारवर्ड पार्टी (जीएफपी), महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) और निर्दलियों के समर्थन का भरोसा है। आईआईटी से पढ़ाई करने वाले पर्रिकर की पार्टी के 13 विधायक हैं। उन्होंने जीएफपी, एमजीपी के अलावा दो निर्दलीयों के समर्थन से कुल 21 सदस्यों के साथ रविवार को सरकार बनाने का दावा पेश किया था।

मंगलवार को एक अन्य निर्दलीय विधायक ने उन्हें समर्थन दे दिया। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद पर्रिकर ने भरोसा जताया था कि उनकी सरकार स्थिर होगी और 5 साल का कार्यकाल पूरा करेगी।

Comments

Most Popular

To Top