Anya Smachar

वकील का दावा, माफी मांगना चाहते हैं जस्टिस करनन

जस्टिस-करनन

नई दिल्ली। जस्टिस करनन के वकील मैथ्यू नेदुम्पारा ने सुप्रीम कोर्ट से मांग की कि उनकी गिरफ्तारी के आदेश पर रोक लगाई जाए। चीफ जस्टिस जेएस खेहर की अध्यक्षता वाली बेंच से उन्होंने कहा कि कोर्ट की अवमानना के कानून में ये प्रावधान है कि सजा मिलने के बाद भी अभियुक्त माफी मांगने का हकदार है। हम माफी मांगना चाह रहे हैं लेकिन कोर्ट की रजिस्ट्री हमारी​ याचिका को स्वीकार नहीं कर रहा है। जस्टिस करनन को कभी भी गिरफ्तार किया जा सकता है। चीफ जस्टिस जेएस खेहर ने कहा कि हम में से सात जजों ने सोच-समझकर फैसला किया है। आप सुबह, दोपहर और शाम को चले आते हैं।





नेदुम्पारा से सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जब जज उपलब्ध होंगे तब इस पर सुनवाई होगी। आपको बता दें कि जस्टिस करनन की ओर से कल भी वकील मैथ्यू नेदुम्पारा ने तीन तलाक के मामले की सुनवाई कर रही पांच जजों की संविधान बेंच के समक्ष इस मामले को मेंशन किया था और कहा था कि आपके डर से सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री का कोई भी अधिकारी याचिका स्वीकार नहीं कर रहा है।

Comments

Most Popular

To Top