Anya Smachar

एक क्रिकेटर के महान बनने की गाथा है फिल्म ‘ए बिलियन ड्रीम्स’

सचिन तेंदुलकर

मुंबई। आम तौर पर फिल्मों की समीक्षाओं में फिल्मों की खूबियों और खामियों की चर्चा होती है और अनुमानित तौर पर बॉक्स ऑफिस के नतीजों के बारे में इशारा होता है। भारतीय क्रिकेट के सबसे बड़े सितारे सचिन तेंदुलकर के जीवन पर आई फिल्म ‘सचिन ए बिलियन ड्रीम्स’ किसी भी एंगल से परंपरागत तौर पर बनने वाली फिल्मों के फॉरमेट पर नहीं है। दरअसल ये एक डाक्यू-ड्रामा है, जिसमें भारत और विश्व क्रिकेट के सबसे बड़े सितारे की जिंदगी के तमाम पहलुओं को सिलसिलेवार तरीके से दिखाया गया है। इस डाक्यू-ड्रामे को कहीं रियल रखा गया, तो कहीं इसे ड्रामैटिक किया गया।





  • सचिन तेंदुलकर कौन हैं? कैसे उनके क्रिकेट जीवन की शुरुआत हुई और कैसे वह क्रिकेट की दुनिया के सबसे बड़े सितारे बने? ये सवाल ऐसे नहीं हैं कि क्रिकेट का कोई भी प्रेमी इनके जवाब न जानता हो। मगर इस डाक्यू-ड्रामे का सबसे दिलचस्प पहलू ये है कि यहां क्रिकेटर सचिन और फैमिली मैन सचिन के बीच संतुलन रखा गया है। ये संतुलन एक क्रिकेटर के महान खिलाड़ी और निजी तौर पर उनके एक बेहतर इंसान बनने के सफर को साथ लेकर चलता है।

ये सचिन की जिंदगी का सफर है और जैसे-जैसे फिल्म आगे बढ़ती है, तो इसे देखने वाला दर्शक इस सफर से जुड़ता चला जाता है और फिल्म के अंत तक जुड़ा रहता है। ये सफर दर्शकों को भावुक करता है। कभी खुशी में तालियों की गूंज तो कभी आंखों को नम कर देता है। पर्दे पर दिखाए सचिन की जिंदगी के हर पहलू, हर संवेदना से दर्शक स्वत: जुड़ते चले जाते हैं।

सचिन सिर्फ क्रिकेटर नहीं हैं। वह हमारे देश की आम जनता के विश्वास का प्रतीक बने। वह लाखों-करोड़ों के सपनों की वजह बने। वे आदर्शमय पुत्र, पति और पिता बने। इस सफर में आसान कुछ नहीं। कामयाबी के शिखर पर आसीन सितारे मुश्किल दौर से किस तरह से गुजरते हैं, ये एहसास इसे देखकर बखूबी हो जाता है।

ये कोई नॉर्मल फिल्म नहीं है, जहां मसालेदार मनोरंजक फिल्म देखने जाया जाए। इसे देखने जाना वाला हर शख्स इसे देखते वक्त इस बात पर गर्व महसूस करेगा कि क्रिकेट के भगवान का दर्जा पाने वाला ये महासितारा हमारा है, हमारे देश का है और हमारा हिस्सा है। जाइए, पर्दे पर एक महान क्रिकेटर की महानता के सपने का हिस्सा बनिए और गर्व महसूस कीजिए।

सचिन की फिल्म ने पहले दिन 8.40 करोड़ की कमाई की

  • फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर पहले दिन 8.40 करोड़ का कारोबार मिला। इसे एक साथ अंग्रेजी, हिन्दी, मराठी, तमिल और तेलुगू भाषाओं में एक साथ रिलीज किया गया।

फिल्म का पहला दिन बॉक्स ऑफिस की उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा, लेकिन अभी दो दिन हैं और वीकेंड होने से शनिवार और रविवार को बिजनेस बेहतर होने की उम्मीद है। फिल्मी कारोबार के जानकार मानते हैं कि 2200 सिनेमाघरों में रिलीज हुई इस फिल्म के अगले दो दिनों में 20 करोड़ के आसपास का कारोबार करने की संभावना है। फिल्म का बजट 30 करोड़ के आसपास आंका गया है। फिल्म को अपनी लागत वसूल करने में परेशानी नहीं आएगी, लेकिन ये भी सच है कि फिल्म ब्लॉकबस्टर कारोबार नहीं कर पाएगी।

Comments

Most Popular

To Top