Anya Smachar

कालेधन के खिलाफ ED ने पूरे देश में की छापेमारी

प्रवर्तन निदेशालय

नई दिल्ली। काले धन के खिलाफ केंद्र सरकार की मुहिम के तहत प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शनिवार को 300 से ज्यादा फर्जी कंपनियों (शैल कंपनियां)/एंट्री ऑपरेटरों के ठिकानों पर छापेमारी की। कार्रवाई अभी भी जारी है।





शुरुआती जांच में इन फर्जी कंपनियों में महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री रहे छगन भुजबल, नौकरशाह यादव सिंह और आंध्र प्रदेश के नेता जगनमोहन रेड्डी का पैसा लगे होने की बात सामने आई है। भुजबल पर आरोप है कि उन्होंने इन कंपनियों के जरिए करीब 46 करोड़ से ज्यादा का निवेश किया है। मुम्बई में छापेमारी में जगदीश पुरोहित नाम के व्यक्ति के पते पर 700 फर्जी कंपनियां होने का पता चला है। असल में इन्हीं शैल कंपनियों के जरिए काले धन को सफ़ेद करने का खेल होता है।

ED की  टीमों ने आज दिल्ली, चंडीगढ, पटना, रांची, अहमदाबाद, ओडिशा, बेंगलुरु, चेन्नई समेत 16 राज्यों में एक साथ कार्रवाई की। छापे के दौरान अनेक महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए गए हैं जिसमें कई सौ करोड़ के लेनदेन का ब्योरा मिला है। छापे से अनेक सफेदपोशों में भी हड़कंप है।

ED के निदेशक कर्नल सिंह ने कहा “एंट्री आपरेटर और शैल कंपनी काले धन को सफेद करने में रीढ की हड्डी होते हैं। ब्लैक मनी के इस खेल में जो भी शामिल पाया जायेगा बख्शा नहीं जायेगा।”

छापे में मिले दस्तावेजों से हजारों शैल कंपनियों का पता लगाने की संभावना है। इसके अलावा इससे यह भी पता लग जाएगा कि किन लोगों ने और कब-कब इन कंपनियों में लेनदेन किया।

Comments

Most Popular

To Top