Anya Smachar

अमेरिका ने पाकिस्तान के इन आतंकी संगठनों को किया बैन

हाफिज-सईद

वाशिंगटन। अमेरिका ने मुंबई हमले के साजिशकर्ता हाफिज सईद के जमात-उद दावा समूह के एक अनुषंगी संगठन समेत पाकिस्तान में मौजूद आतंकवादी संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया है। यह प्रतिबंध आतंकवादियों के नेतृत्व और धन इकट्ठा करने वाले नेटवर्कों को तबाह करने के प्रयास के लिए लगाया गया है।





अमेरिका के ‘ट्रेजरी ऑफिस ऑफ फॉरन असेट्स कंट्रोल’ (ओएफएसी) के निदेशक जॉन स्मिथ ने कहा, “इन पाबंदियों को लगाने का उद्देश्य पाकिस्तान में मौजूद वित्तीय सहायता नेटवर्कों को समाप्त करना है। इन्हीं नेटवर्कों ने तालिबान, अल-कायदा, आईएसआईएस और लश्कर-ए तैयबा को आत्मघाती हमलावरों की बहाली और अन्य हिंसक गतिविधियां के लिए वित्तीय सहायता मुहैया कराई थी।”

उन्होंने आगे कहा कि अमेरिका धर्मार्थ और आतंकी गतिविधियों की सुविधा मुहैया करने वाले संगठनों सहित पाकिस्तान और उसके आसपास के क्षेत्रों में मौजूद आतंकवादियों को आक्रामक तरीके से निशाना बनाता रहेगा।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, प्रतिबंध लश्कर-ए-तैयबा, जमात-उद-दावा, तालिबान, जमात-उल-दावा अल कुरान और इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया और आईएसआईएस खोरासन पर लगाया गया है। खोरासन एक ऐतिहासिक क्षेत्र है जिसमें उत्तरपूर्वी ईरान का एक बड़ा क्षेत्र, दक्षिणी तुर्कमेनिस्तान, उत्तरी अफगानिस्तान और भारत का हिस्सा शामिल है। प्रतिबंध विशेष तौर पर हयातुल्ला गुलाम मोहम्मद (हाजी हयातुल्ला), अली मोहम्मद अबू तुरब, जमात-उद-दावा के लिए कथित तौर पर पैसा इकट्ठा करने वाले संगठन इनायत-उर रहमान पर लगाया गया है।

गौरतलब है कि हाफिज सईद पाकिस्तान में नजरबंद है। कुछ दिन पहले पाकिस्तान की पंजाब प्रांत की सरकार ने हाफिज की नजरबंदी की अविधि 90 दिन बढ़ा दी थी। हाफिज पिछले तीन महीने से अपने घर में नजरबंद है। पंजाब सरकार ने देश के आतंकरोधी कानून के तहत सईद और उसके 4 सहयोगियों के हाउस अरेस्ट की अवधि को बढ़ाने का फैसला लिया था।

Comments

Most Popular

To Top