Anya Smachar

प्राचीन इराकी शहर अल-हतरा IS के कब्जे से मुक्त

प्राचीन अल-हतरा शहर

बगदाद। इराक के अर्धसैनिक बलों ने प्राचीन शहर अल-हतरा को कथित इस्लामिक स्टेट (आईएस) के कब्ज़े से छुड़ा लिया है। लेकिन आईएस के लड़ाकों ने इस प्राचीन शहर को तबाह कर दिया है।





बीबीसी के अनुसार, सैन्य बलों ने दावा किया है कि उनके लड़ाकों ने भीषण लड़ाई के बाद यूनेस्को विश्व विरासत स्थलों की सूची में शामिल अल-हतरा पर फिर से नियंत्रण कर लिया है। लेकिन सुरक्षा बलों ने जो धुंधली तस्वीर प्रकाशित की है उससे इस प्राचीन शहर को हुए नुकसान का स्पष्ट अंदाजा नहीं लग पा रहा है।

अल-हतरा

प्राचीन अल-हतरा शहर को IS ने इस तरह तबाह किया

ऐसा प्रतीत होता है कि इस्लामिक स्टेट ने उन प्राचीन स्थलों पर बुलडोजर चलाए हैं जिन्हें वे ग़ैर इस्लामिक मानते है। प्राचीन स्थलों में लूटपाट भी की गई है। उधर, यूनेस्को का कहना है कि इराक की विरासत को जान बूझकर नुकसान पहुंचाना युद्ध अपराध है।

समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार, शिया नेतृत्व वाले लड़ाकों ने मंगलवार सुबह अल-हतरा को छुड़ाने के लिए लड़ाई छेड़ी थी और बुधवार दोपहर तक इस प्राचीन शहर पर नियंत्रण स्थापित कर लिया।

उल्लेखनीय है कि 2014 में इस्लामिक स्टेट के नियंत्रण में आने से पहले अल-हतरा इराक़ के सबसे संरक्षित प्राचीन स्थलों में से एक था। राजधानी बगदाद से 290 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम और मूसल से 110 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में स्थित इस शहर को संभवत: ईसा पूर्व दूसरी-तीसरी शताब्दी में बसाया गया था। शहर के कई मंदिर यूनानी और रोमन वास्तुकला कला में बने थे और इनमें पूर्वी सजावटी विशेषताओं की झलक भी थी।

Comments

Most Popular

To Top