Anya Smachar

भारी हिंसा के बाद अनंतनाग लोकसभा उपचुनाव स्थगित

श्रीनगर-उपचुनाव-में-भारी-हिंसा

नई दिल्‍ली। 9 अप्रैल को श्रीनगर उपचुनाव में हुई भारी हिंसा और बेहद कम मतदान को देखते हुए चुनाव आयोग ने जम्‍मू कश्‍मीर के अनंतनाग में 12 अप्रैल को होने वाले उपचुनाव स्‍थगित कर दिए हैं। अब ये चुनाव 25 मई को होंगे। आयोग की ओर से जारी नोटिस में संबंधित अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि 12 अप्रैल को अनंतनाग संसदीय सीट पर उप-चुनाव के तहत होने वाले मतदान को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया गया है।





नोटिस में कहा गया है, ‘आयोग संसदीय क्षेत्र में कानून-व्यवस्था के हालात में सुधार की उम्मीद करता है और उम्मीद है कि यहां मतदान के लिए स्वतंत्र और निष्पक्ष माहौल तैयार हो जाएगा।’ सोमवार को जम्मू एवं कश्मीर सरकार ने निर्वाचन आयोग को सौंपी रिपोर्ट में कहा है कि अनंतनाग में मतदान के लिए कानून एवं व्यवस्था की स्थिति अनुकूल नहीं है।

सत्तारूढ़ पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की सरकार ने आयोग से अनंतनाग में मतदान स्थगित करने का आग्रह भी किया। अनंतनाग से पीडीपी के उम्मीदवार एवं मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के भाई तसादुक मुफ्ती ने कहा कि घाटी में परिस्थितियां मतदान के माकूल नहीं हैं। महबूबा मुफ्ती के चार जुलाई, 2016 को मुख्यमंत्री बनने के बाद लोकसभा सदस्यता से इस्तीफे देने के चलते अनंतनाग संसदीय सीट रिक्त हुई है।

जम्मू एवं कश्मीर के श्रीनगर संसदीय सीट पर रविवार को उप-चुनाव के तहत मतदान के दौरान व्यापक हिंसा भड़क उठी। स्थानीय लोगों की भीड़ ने 100 के करीब मतदान केंद्रों पर तोड़फोड़ की और एक स्कूल की इमारत को आग लगा दी। भीड़ पर काबू पाने के लिए सुरक्षा बलों की गोलीबारी में आठ लोगों की मौत हो गई।

रविवार को घाटी में फिर से पनपी हिंसा सोमवार को भी जारी रही और भीड़ ने एक और स्कूल को आग लगा दी। इस स्कूल को बुधवार को होने वाले मतदान के लिए मतदान केंद्र बनाया गया था। अलगाववादियों ने सोमवार को बंद का आह्वान भी किया, जिससे पूरे इलाके में जन-जीवन बुरी तरह ठप रहा।

Comments

Most Popular

To Top