International

फौजी से सांसद बने एलवुड का जज्बा… दाँव पर लगा दी जान

लंदन हमला

लंदन। अपनी जान पर खेलकर नेताओं की सुरक्षा करने वाले पुलिसकर्मियों की घटनाएं अक्सर होती हैं लेकिन ब्रिटेन के एक सांसद ने तो सुरक्षाकर्मी को बचाने के लिए अपनी सुरक्षा की भी परवाह नहीं की। यह सांसद उस वक्त पुलिसकर्मी कीथ पाल्मर की मदद के लिए पहुंचे जब आतंकी ने कीथ पर चाकू से हमला किया और कीथ गिर गया। सांसद उसकी मदद को तब दौड़े जब बाक़ी सांसदों को सुरक्षित जगह पर पनाह लेने और संसद परिसर से बाहर न निकलने की हिदायतें जारी की जा रही थीं। असल में यह सांसद एक जमाने में खुद भी सैन्य अधिकारी थे। नाम है टोबियास एलवुड।





भागने के बजाय एलवुड ने कीथ की जान बचाना जरूरी समझा

लंदन हमला

कीथ की मदद में जुटे सांसद एलवुड

बुधवार की उस दोपहर जब आतंकी कीथ से भिड़ा और उसे चाकू घोंपे तब पास खड़े दूसरे सुरक्षाकर्मी ने खालिद को गोली मारी। जख्मी कीथ भी वहीं गिरा था और आतंकी भी वहीं था। तब तक ये भी पक्का नहीं था कि आतंकी मरा है या जिंदा। इस बीच तमाम सांसदों के लिए सुरक्षा हिदायतें देते हुए ऐलान किया गया कि वे सुरक्षित जगह पर चले जाएं। लेकिन कंजरवेटिव पार्टी के इस सांसद एलवुड ने इन हिदायतों को दरकिनार कर कीथ की जान बचाना जरूरी समझा।

अपने मुंह से कृत्रिम सांस देते रहे

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक़ सांसद एलवुड दौड़कर कीथ के पास पहुंचे। उन्होंने उसके जख्मों से रिसते खून को रोकने के लिए जख्म को हाथ से दबाए रखा। यही नहीं कीथ को उन्होंने अपने मुंह से कृत्रिम सांस भी दी। एलवुड ने ऐसा करना तब तक जारी रखा जब तक कि वहाँ चिकित्सा सेवा विशेषज्ञ नहीं पहुँच गए।

ब्रिटिश सांसद टोबियास एलवुड

टोबियास एलवुड भी सैनिक रहे हैं और 1991 से 1996 तक ब्रिटिश सेना की नौकरी कर चुके हैं

50 वर्षीय टोबियास एलवुड भी सैनिक रहे हैं और 1991 से 1996 तक ब्रिटिश सेना की नौकरी कर चुके हैं। वैसे बाली में किए गए आतंकी हमले में वह अपने एक भाई को खो चुके हैं।

सांसद एलवुड के जज्बे को हर कोई सलाम कर रहा है। …और यह पहला मौक़ा नहीं है जब फ़ौजी से सांसद बने एलवुड ने ऐसे मददगार की भूमिका निभाई। एक बार किसी के लान को गंदा कर रहे खतरनाक बदमाशों से भी वह भिड़ गए थे। उन बदमाशों ने उन्हें हमला कर जख्मी कर डाला था और सांसद को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा था।

Comments

Most Popular

To Top