Jails

फिर क्यों सुर्खियों में आई मध्य प्रदेश की खंडवा जेल?

खंडवा-जेल

खंडवा। जेलरों एवं जेल प्रहरियों की हरकतों को लेकर खंडवा का जेल हमेशा से ही सुर्खियों में बना रहा है। फिर चाहे जेलर की पत्नी का आत्महत्या करना हो या जेल की ऊंची दीवारों को फांद कर सिमी आतंकियों के भागने का मामला हो। ऐसे कई मामले खंडवा जिला जेल की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह खड़े करते हैं।





गुरुवार को कैदियों ने घटिया भोजन और भोजन ना करने को लेकर जेल के अंदर धरना दिया। वहीं, इस मामले को लेकर कैदी के परिजनों ने जेल के बाहर ‘जेलर तेरी तानाशाही नहीं चलेगी’ के नारे लगाते हुए धरना दिया। परिजनों के मुताबिक, जेल में दिया जाने वाला खाना जेल मैनुअल के अनुसार नहीं दिया जाता है। जिसके चलते कैदी जेलर के खिलाफ मोर्चा खोलकर भूख हड़ताल पर बैठ गए।

छूटे कैदियों ने बाहर उनके परिजनों को जानकारी दी तो देखते ही देखते लोग जिला जेल पर प्रदर्शन करने पहुंच गए। स्थिति को भांपते हुए नगर पुलिस अधीक्षक शेष नारायण तिवारी, टीआई सिटी कोतवाली दिलीप पुरी भी दलबल के साथ स्थिति को कंट्रोल करने पहुंचे और उन्होंने परिजनों को समझाया। जिला जेल प्रशासन के नियमों से उन्हें अवगत कराकर माहौल खराब होने से रोका जा सका। इसके बाद पूरा मामला शांत हुआ।

Comments

Most Popular

To Top