Jails

लखनऊ जेल : गैंगरेप के आरोपी गायत्री की हो रही खातिरदारी!

लखनऊ: मां-बेटी से यौन शोषण के आरोप का सामना कर रहे और लखनऊ जिला कारागार में बंद उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और सपा नेता गायत्री प्रसाद प्रजापति की मेहमान नवाजी जेल प्रशासन गुपचुप तरीके से कर रहा है। इस आवभगत से गायत्री प्रसाद खुद को कैदी नहीं बल्कि मेहमान समझ रहे हैं और उनके कारिंदे उनकी सेवा कर रहे हैं।





आपको बता दें कि तत्कालीन प्रदेश सरकार की सपा सरकार से मदद न मिलने पर पीड़ित महिला ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। जहां उसने यह बताया कि प्रदेश के पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति और उनके समर्थकों ने उसके साथ दुष्कर्म कर वीडियो बनाया है तो वहीं बेटी से छेड़छाड़ की है। मामले को गंभीरता से लेकर सर्वोच्च न्यायलय ने यूपी सरकार को फटकार लगाई और आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच के निर्देश दिए। हरकत में आयी गौतमपल्ली थाने की पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर 15 मार्च को आरोपी गायत्री समेंत उनके समर्थकों को जेल भेज दिया। वह 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में हैं।

जेल में चोर उचक्कों की बैरक में कैदी बन कर रह रहे मंत्री की आवभगत के लिए उनके चेले जेल के चक्कर काट रहे हैं। जेल सूत्रों की मानें तो मामले में गायत्री के सह आरोपी निजी सचिव रूपेश उर्फ रुपेश्वर, बिजनेस पार्टनर विकास वर्मा और अमरेंद्र सिंह उर्फ पिंटू सिंह ने देखभाल और अन्य व्यवस्थाओं की कमान संभाल रखी है। गायत्री के खाने से लेकर सोने और दैनिक दिनचर्या में आने वाली व्यवस्थाओं को वही लोग संभाल रहे हैं। जेल में तैनात कई जेल पुलिस कर्मी भी उनकी मदद कर रहे हैं।

हालांकि, जेल अधीक्षक ने खबर का खंडन करते हुए कहा कि जेल में आने वाला हर कैदी एक समान है। गायत्री प्रजापति भी अन्य कैदियों की तरह ही रहते हैं उन्हें किसी प्रकार की विशेष सुविधा नहीं दी गई है।

Comments

Most Popular

To Top