Jails

खुलासा : कश्मीर की जेल में पाकिस्तान और अलगाववादियों का नेटवर्क

बारामूला जेल

श्रीनगर। कश्मीर में कुछ महीनों से मुठभेड़स्थलों पर पथराव और पुलिस अधिकारियों के घरों पर हमलों की साजिश बेशक सीमा पार पाकिस्तान में रची जा रही थी, लेकिन इसे अमलीजामा बारामूला की जेल में बंद आतंकी और अलगाववादी पहना रहे थे। यह खुलासा रविवार को जेल से बरामद 14 मोबाइल फोन, आतंकी साहित्य और कुछ डायरियों से हुआ है। दो मोबाइल अलगाववादी मसर्रत आलम के थे। इनमें एक अत्याधुनिक स्मार्टफोन है। मोबाइल की जांच में पता चला कि तीन वाट्सएप ग्रुप और वीडियो नेटवर्किंग पर सीमा पार लगातार बात हो रही थी। मसर्रत आलम इस समय सैयद अली शाह के नेतृत्व वाले आल पार्टी हुर्रियत कांफ्रेंस का महासचिव है। वह जम्मू-कश्मीर मुस्लिम लीग का भी चेयरमैन है।





जेल में मिले 14 मोबाइल, आतंकी साहित्य और पाकिस्तान के फोन नंबर

बारामूला के एसएसपी इम्तियाज हुसैन मीर ने बताया कि जेल में सुबह तलाशी अभियान चलाया गया। सभी बैरकों को खंगाला गया। हमें 14 मोबाइल फोन, आतंकी संगठनों के साहित्य, लेटरपैड और कुछ फोन नंबर मिले हैं। हम सभी नंबरों की जांच कर रहे हैं। एसएसपी ने मसर्रत से दो मोबाइल बरामद होने की पुष्टि तो की, लेकिन यह नहीं बताया कि अन्य मोबाइल जेल में बंद कौन सा आतंकी या अलगाववादी इस्तेमाल कर रहा था। उन्होंने कहा कि इस बरामदगी में जेल स्टाफ की मिलीभगत से इन्कार नहीं किया जा सकता। तलाशी जारी है।

बता दें कि मसर्रत आलम ने ही वादी में साल 2008 और 2010 के सिलसिलेवार हिंसक प्रदर्शनों के संचालन में अहम भूमिका निभाई थी। साल 2015 में रिहाई के कुछ ही दिन बाद हैदरपोरा में एक पाकिस्तान समर्थक रैली की थी। उसके बाद पुलिस ने उसे दोबारा गिरफ्तार कर लिया था।

जेल में अलगाववादी और आतंकियों का नेटवर्क

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि कुछ दिन पहले बारामूला जेल में तैनात एक अधिकारी के घर पर बडगाम में आतंकी हमला हुआ था। उस हमले की छानबीन के दौरान कुछ संदिग्ध तत्वों की निगरानी की गई और पता चला कि बारामूला जेल में अलगाववादी और आतंकी अपना नेटवर्क चला रहे हैं।

मोबाइल को कार्बन शीट में छिपाकर ले जाते थे 

जेल की तलाशी के दौरान बड़ी संख्या में कार्बन पेपर मिले हैं। संबंधित अधिकारियों ने बताया कि जेल में अंदर आतंकियों तक मोबाइल पहुंचाने में इन कार्बन पेपर की मदद ली जा रही थी। कार्बन पेपर के अंदर अच्छी तरह लपेटकर रखा मोबाइल फोन और सिमकार्ड आसानी से स्कैनर मशीन की पकड़ में नहीं आते।

Comments

Most Popular

To Top