International

रूस का Soyuz rocket का लॉन्च हुआ क्यों फेल

बैकानॉर (Baikanour)। संकट से जूझ रहे रूस के अंतरिक्ष उद्योग को उस वक्त बड़ा झटका लगा जब इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) जा रहे Soyuz rocket में सवार अंतरिक्ष यात्रियों को आपात स्थिति में उतरना पड़ा। Soyuz rocket में दो अंतरिक्ष यात्री अमेरिका के Nick Hague और रूस के Alexey Ovchinin सवार थे। उन्हें रॉकेट से सुरक्षित निकाल लिया गया। रॉकेट लॉन्च फेल होने के बारे में अभी तक आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा गया लेकिन मिशन कंट्रोल से जुड़े विशेषज्ञों को लगता है कि भार की कमी लॉन्च फेल होने का एक कारण हो सकता है। रूसी जांच अधिकारियों के मुताबिक इस घटना की जांच की जा रही है।





मीडिया खबरों के मुताबिक सोवियत संघ के विघटन के बाद रूस के इतिहास में मानवयुक्त उड़ान में इस तरह की यह पहली घटना है। वैसे हाल के वर्षों में रूसी अंतरिक्ष उद्योग को कई समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। बीते कुछ वर्षों में रूस को कई उपग्रहों और अन्य अंतरिक्ष यानों का नुकसान उठाना पड़ा है।

भार की कमी को को तकनीकी खामी के तौर पर ही माना जाता है और जैसे ही मिशन कंट्रोल टीम को इसके संकेत मिले क्रू कैप्सूल के जरिए दोनों अंतरिक्ष सवारों को सुरक्षित निकाल लिया गया।

नासा ने एक बयान जारी कर कहा है कि कजाकिस्तान के Dzhezkazgan शहर से 20 किलोमीटर की दूरी पर उतारा गया। नासा के मुताबिक क्रू सदस्य सुरक्षित हैं। क्रू कैप्सूल की बैलिस्टिक लैंडिंग कराई गई। इसका अर्थ यह है कि धरती की तरफ लौटते हुए गति कम थी जिसकी वजह से आपातकालीन लैंडिंग नीचे की तरफस गिरते हुई कराई गई।

 

Comments

Most Popular

To Top