International

यरुशलम मुद्दे पर ट्रंप को झटका, संयुक्त राष्ट्र में विरोध में प्रस्ताव पारित

संयुक्त-राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र। यरुशलम के मुद्दे पर अमेरिका को तगड़ा झटका लगा है। सुंयक्त राष्ट्र महासभा ने गुरुवार को अमेरिका से यरुशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने का फैसला वापस लेने का कहा है। इस बाबत संयुक्त राष्ट्र में एक प्रस्ताव रखा गया। प्रस्ताव का 128 देशों ने समर्थन किया। प्रस्ताव का समर्थन करने वाले देशों में भारत भी है। सिर्फ नौ देशों ने प्रस्ताव के विरोध में मत दिया। 35 देश अनुपस्थित रहे।





इस प्रस्ताव के पास होने को अमेरिका खासतौर से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। गौरतलब है कि यरुशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने के अमेरिकी राष्ट्रपति के फैसले पर पहले से ही सवाल उठने लगे थे। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसले पर संयुक्त राष्ट्र का प्रस्ताव एक तरह से दुनिया का विरोध है। प्रस्ताव में यरुशलम के दर्जे को लेकर बातचीत पर बल दिया गया है। प्रस्ताव में अमेरिका के फैसले को अमान्य घोषित करते हुए यरुशलम के दर्जे में बदलाव पर अफसोस भी जाहिर किया गया। प्रस्ताव में तमाम देशों से कहा गया है कि वे अपने राजनयिक मिशनों को यरुशलम स्थानांतरित करने से बचें। पिछले दिनों अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी दूतावास को तेल अवीव से यरुशलम स्थानांतिरत करने की बात कही थी। अभी तमाम देशों के दूतावास तेल अवीव में हैं।

इस मसले पर जिन 9 देशों ने अमेरिका का साथ दिया उनमें कोई बड़ा देश शामिल नहीं है। अमेरिका के पक्ष में वोट देने वाले देशों में ग्वाटेमाला, इजरायल, होंडुरास, मार्शल आइलैंड्स, माइक्रोनेशिया, पलाउ, टोगो और खुद अमेरिका है।

Comments

Most Popular

To Top