International

Special Report: रूस को मिलेगा 6 औऱ परमाणु बिजली घरों का ठेका

न्यूक्लियर पावर प्लांट
सौजन्य- गूगल

नई दिल्ली। छह नये परमाणु बिजली घरों के लिये भारत और रूस के बीच जल्द ही अनुबंध सम्पन्न होगा। उम्मीद की जा रही है कि यह समझौता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ब्लादिवोस्तक दौरे में सम्पन्न हो सकता है। ब्लादिवोस्तक में प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति के बीच 20वीं सालाना शिखर बैठक होनी है।





यहां रूसी दूतावास के एक आला राजनयिक रोमान बाबुशकिन ने 04 और 05 सितम्बर को  प्रधानमंत्री मोदी के रूस दौरे की जानकारी देते हुए बताया कि रूस भारत में छह औऱ नये परमाणु बिजली घर लगाएगा। हालांकि रूसी राजनियक ने यह नहीं बताया कि ये नये परमाणु बिजली घर कहां लगेंगे सूत्रों के मुताबिक इसके लिये आंध्र प्रदेश या ओडिशा में स्थान की तलाश हो चुकी है।

गौरतलब है कि रूस पहले से ही तमिलनाडु के कुडनकुलम में छह परमाणु बिजली घर स्थापित कर रहा है। इनमें दो का निर्माण पूरा हो चुका है जब कि तीसरे औऱ चौथे परमाणु बिजली घरों के निर्माण का काम चल रहा है। पांचवें और छठे परमाणु बिजली घरों के लिये भी सहमति हो चुकी है।

केवल रूस ही ऐसा देश है जिसे भारत में परमाणु बिजली घर लगाने को कहा गया है। भारत ने अमेरिका औऱ फ्रांस से भी वादा किया है कि उसकी कम्पनी को भारत में छह-छह परमाणु बिजली घर लगाने का मौका मिलेगा। लेकिन दोनों देशों के साथ बातचीत अभी चल ही रही है। इस बीच रूस को छह और परमाणु बिजली घर लगाने का ठेका देने के लिये भारत द्वारा सहमति देना भारत और रूस के साथ विशेष सामरिक साझेदारी के रिश्तों का परिचायक है। रूस इस तरह भारत में 12 परमाणु बिजली घरों का काम पूरा करेगा।

सवालों के जवाब में रूसी राजनयिक ने कहा कि छह नये परमाणु बिजली घऱ नवीनतम तकनीक वाले होंगे औऱ इनमें सुरक्षा के बेहतर मानक अपनाए जाएंगे।

Comments

Most Popular

To Top