International

स्पेशल रिपोर्ट: प्रधानमंत्री मोदी शांति पुरस्कार लेने जाएंगे सियोल

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून और पीएम मोदी
फाइल फोटो

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सियोल शांति पुरस्कार से 22 फरवरी को दक्षिण कोरिया के दौरे में नवाजा जाएगा। उन्हें यह पुरस्कार विश्व आर्थिक सहयोग और अंतरराष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देने के लिये दिया जाएगा।





प्रधानमंत्री मोदी दक्षिण कोरिया के दौरे में वहां के शिखर नेताओं के साथ विभिन्न क्षेत्रों में आपसी सहयोग को गहरा करने के मसलों के अलावा कोरियाई प्रायद्वीप और अन्य क्षेत्रीय व अंतरराष्ट्रीय मसलों पर भी चर्चा करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी 21 फरवरी को दोपहर के पहले राजधानी सियोल पहुचेंगे।

दक्षिण कोरिया की सरकार ने प्रधानमंत्री मोदी को ‘सियोल पीस प्राइज’ देने का ऐलान गत वर्ष 24 अक्टूबर को किया था। बाद में भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी को यह सम्मान मोदीनोमिक्स, मोदी सिद्धांत और एक्ट ईस्ट पॉलिसी के लिये दिया गया है। सियोल पीस प्राइज हर दो साल पर दिया जाता है और इसकी स्थापना वर्ष 1990 में की गई थी।

प्रधानमंत्री मोदी के दक्षिण कोरिया दौरे के बारे में यहां विदेश मंत्रालय में सचिव विजय ठाकुर सिंह ने कहा कि दक्षिण कोरिया भारत का एक अहम सामरिक साझेदार है और प्रधानमंत्री का दक्षिण कोरिया दौरा इसी के अनुरुप हो रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी का सियोल दौरा बहुत संक्षिप्त केवल 30 घंटे का होगा। उनका यह दौरा काफी व्यस्त होगा। इस दौरान वह भारत कोरिया व्यापार बैठक को सम्बोधित करेंगे। अगले दिन वह राष्ट्रपति मून जाए इन के साथ आपसी और अंतरराष्ट्रीय महत्व के अन्य मसलों पर बातचीत करेंगे। गौरतलब है कि पिछले साल के मध्य में कोरियाई राष्ट्रपति ने भारत का दौरा किया था।

हाल के सालों में भारत और कोरिया के बीच आर्थिक व व्यापारिक सम्बन्ध काफी गहरे हुए हैं। इसके साथ ही भारत औऱ दक्षिण कोरिया के बीच रक्षा सहयोग औऱ आदान प्रदान भी काफी बढ़ा है। कोरियाई कम्पनी ने भारत को आर्टीलरी तोपों की सप्लाई के अलावा भारत में ही उनके निर्माण के लिये मदद दी है। कोरियाई K-9 वज्र होवित्चर तोपों का अब भारत में उत्पादन होने लगा है।

भारत-कोरिया रक्षा सहयोग के बारे में विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि हम कोरियाई रक्षा तकनीक हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं। इस इरादे से हाल में ही कोरिया के रक्षा मंत्री ने भारत का दौरा किया था।

Comments

Most Popular

To Top