International

Special Report: जम्मू-कश्मीर भारत का अंदरूनी मामला- जर्मनी

जर्मनी के राजदूत वाल्टर लिंडनर

नई दिल्ली। जर्मनी ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर भारत सरकार का अंदरूनी मसला है और पाकिस्तान  युद्ध का हौवा खड़ा कर रहा है।





यहां कूटनीतिक मसलों के पत्रकारों के संगठन(आईएएफएसी) द्वारा आयोजित एक बैठक को सम्बोधित करते हुए जर्मनी के राजदूत वाल्टर लिंडनर ने कहा कि भारतीय संविधान के तहत अनुच्छेद-370 के तहत मिले विशेष दर्जा के प्रावधानों को निरस्त करना भारत सरकार का अंदरुनी मसला है। राजदूत ने कहा कि जर्मनी मानता है कि जम्मू-कश्मीर भारत औऱ पाकिस्तान का दिवपक्षीय मसला है लेकिन इसका क्षेत्रीय असर हो सकता है।

संयुक्त राष्ट्र महासभा के दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा भारत के साथ युद्ध होने की चेतावनी देने के बारे मे  पूछे जाने पर राजदूत लिंडनर ने कहा कि आज के दौर में युद्ध की बातें ठीक नहीं लगतीं। जर्मनी चाहेगा कि जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकारों का ध्यान रखा जाए।

संयुक्त राष्ट्र महाधिवेशन के दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा युद्ध का राग छेड़ने के विपरीत भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा संयंमित भाषण देने की उन्होंने सराहना की।  उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने उकसाने वाली बातें की। राजदूत ने कुछ महीना पहले जम्मू-कश्मीर के दौरे के बारे में अपनी राय देते हुए बताया कि वहां रोजगार की समस्या है। जम्मू-कश्मीर धरती पर स्वर्ग है जहां लोग आतंकवाद नहीं चाहते।

Comments

Most Popular

To Top