International

स्पेशल रिपोर्ट: जाधव को पाकिस्तान तुरंत रिहा करे- भारत

कुलभूषण और विदेश मंत्री

नई दिल्ली। पाकिस्तान की जेल में मौत की सजा पाए भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के पक्ष में अंतरराष्ट्रीय न्यायिक अदालत (ICJ) द्वारा फैसाला सुनाने के बाद भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि कुलभूषण जाधव को तुरंत रिहा कर भारत वापस करे।





विदेश मंत्री एस जयशंकर ने संसद में दिये अपने बयान में कहा कि कुलभूषण जाधव निर्दोष है औऱ उसके खिलाफ गलत आरोप लगाए गए हैं। विदेश मंत्री ने संसद को भरोसा दिलाया कि कुलभूषण जाधव की सुरक्षा और उनकी जल्दी स्वदेश वापसी के लिये भारत  गम्भीरता से लगातार कोशिशें करता रहेगा। गौरतलब है कि मार्च, 2017 में  कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने ईरान से अगवा किया था और बाद में कहा था कि उसे  पाकिस्तान में जासूसी औऱ आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने के बाद गिरफ्तार किया गया था।

जयशंकर ने कहा कि साल 2017 में सरकार ने सदन से वादा किया था कि कुलभूषण जाधव की रिहाई के लिये भारत सरकार कानूनी कार्रवाई समेत हर सम्भव उपाय करेगा। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय अदालत द्वारा दिया गया फैसला  भारत के रुख के पक्ष में है।

बाद में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि  पाकिस्तान अपनी जनता को बरगलाने के  लिये कह रहा है कि अंतरराष्ट्रीय अदालत का फैसला से पाकिस्तान की जीत हुई है। प्रवक्ता नेक कहा कि वास्तव में पाकिस्तान को अदालत द्वारा दिये गए फैसले को ठीक से पढ़ना चाहिये। पाकिस्तान को फैसले का 7वां पेज देखना चाहिये। वास्तव में फैसला को  पाकिस्तान की जीत बताने के पीछे पाकिस्तान की अपनी मजबूरियां हैं। प्रवक्ता ने कहा कि अदालत के फैसले से जाधव को मौत की सजा पर पूरी तरह रोक लग गई है।

 प्रवक्ता ने कहा कि आईसीजे का फैसला अंतिम है औऱ इसके खिलाफ अपील नहीं की जा सकती है। हम पाकिस्तान से यह अपेक्षा करते हैं कि इस फैसले का पालन करे। फैसले में  कुलभूषण जाधव को  भारतीय राजनयिक सम्पर्क का निर्देश दिया गया है जिसे तुरंत लागू करने को कहा गया है। प्रवक्ता ने कहा कि हम यह भी अपेक्षा करते हैं कि पाकिस्तान इसे तुरंत लागू करे। वियना संधि के अनुरूप पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय अदालत का फैसला मानना होगा।

Comments

Most Popular

To Top