International

स्पेशल रिपोर्ट: भारतीय उच्चायुक्त बिसारिया अभी पाकिस्तान में ही रहेंगे

अजय बिसारिया
सौजन्य- गूगल

नई दिल्ली। इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया के जल्द भारत लौटने की सम्भावना नहीं है। यहां विदेश मंत्रालय ने इस आशय के संकेत दिये। अजय बिसारिया की राजनयिक स्थिति के बारे में पूछे जाने पर यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि भारतीय राजनयिक अब तक दिल्ली नहीं आए हैं।





गौरतलब है कि तीन दिनों पहले भारत द्वारा जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा निरस्त किये जाने के बाद पाकिस्तान ने विरोध जताने के लिये पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया को स्वदेश चले जाने और अपने उच्चायुक्त को भारत नहीं भेजने का फैसला कियाथा। इसके जवाब में भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा था कि पाकिस्तान इस बारे में विचार करे क्योंकि दोनों देशों को आपसी संवाद का राजनयिक जरिया बंद नहीं करना चाहिये।

इस बयान का निहितार्थ यही माना जा रहा है कि भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि एक दूसरे के उच्चायोगों को हटाने का फैसला निरस्त किया जाए। गौरतलब है कि पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुकत् के भारत चले जाने की कोई समय सीमा नहीं बताई थी।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के बयान के बारे में पूछे जाने पर यहां भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान को जमीनी हालात को समझना चाहिये । भारत ने जम्मू कश्मीर के बारे में जो कदम उठाया है वह भारत का अंदरुनी मामला है और पाकिस्तान को इसमें दखल देने की जरुरत नहीं है। प्रवक्ता ने कहा कि यह समझना जरूरी है कि पाकिस्तान ने एकपक्षीय कदम उठाया है। पाकिस्तान ने भारत पाक रिश्तों में खतरनाक हालात पैदा होने का अहसास दुनिया को देने की कोशिश की है। प्रवक्ता ने कहा कि यह भारत की सम्प्रभुता का मसला है औऱ इसका ताल्लुक भारत के संविधान से है।

पाकिस्तान द्वारा समझौता एक्सप्रेस ट्रेन रोकने के फैसले को प्रवक्ता ने खेदजनक बताया। उन्होंने कहा कि पाकिसतान यदि इसी तरह के कदम उठाना चाहता है तो यह उसकी इच्छा है इसमें हम कुछ नहीं कर सकते।

Comments

Most Popular

To Top