International

स्पेशल रिपोर्ट: भारत ने कहा- जाधव से जल्द मिलने दे पाकिस्तान

इमरान खान और कुलभूषण जाधव

नई दिल्ली। पाकिस्तानी सैन्य अदालत द्वारा मौत की सजा पाए भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को  भारत ने जल्द से जल्द काउंसेलर सम्पर्क मुहैया कराने की मांग की है।





गौरतलब है कि पिछले सप्ताह द हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय अदालत ने कुलभूषण जाधव के पक्ष में फैसला सुनाते हुए कहा था कि कुलभूषण जाधव को  काउंसेलर सम्पर्क नही दे कर पाकिस्तान ने वियना संधि का पालन नहीं किया है। इस फैसले के दिन ही पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने देर रात बयान जारी कर कहा था कि  जाधव को काउंसेलर सम्पर्क पाकिस्तानी नियमों और प्रक्रियओं के अनुरूप प्रदान किया जाएगा। लेकिन एक सप्ताह बाद भी पाकिस्तान द्वारा इस बारे में कोई सूचना नहीं देना भारतीय राजनयिक हलकों में हैरानी पैदा कर रहा है।

यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले के आधार पर ही भारत ने पूर्ण काउंसेलर सम्पर्क मुहैया कराने की मांग कीहै। भारत  ने इस बारे में अपनी मांग पाकिस्तान को भेज दी है। गौरतलब है कि जाधव को केवल एक बार उनकी मां और पत्नी से सीमित वक्त के लिये घोर निगरानी के बीच मिलने दिया गया था लेकिन भारतीय पक्ष और उनका परिवार इस मुलाकात से संतुष्ट नहीं हुआ।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा अमेरिका में एक सार्वजनिक सभा में  दिये गए इस बयान पर कि उनके देश में  30 से 40 हजार आतंकवादी रहते हैं औऱ वहां तीस से चालीस जेहादी गुट सक्रिय  हैं यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि  ऐसा नहीं है कि पाकिस्तान के नेताओं ने पहली बार यह स्वीकार किया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने जब सार्वजनिक तौर पर यह स्वीकार किया है तो उनसे यह उम्मीद भी की जानी चाहिये कि वह जेहादी गुटों के खिलाफ कड़े कदम उठाएंगे।

Comments

Most Popular

To Top