International

स्पेशल रिपोर्ट: पाक दिवस पर चीनी वायुसेना की टीम करेगी हवाई करतब

पाक दिवस पर करतब दिखाते पाक वायुसेना

नई दिल्ली।  23 मार्च को पाकिस्तान में मनाए जा रहे पाकिस्तान दिवस के मौके पर आयोजित परेड के दौरान चीनी वायुसेना के अग्रणी लड़ाकू और टोही विमान फ्लाई पास्ट करेंगे। इस दौरान चीनी वायुसेना के ट्रेनर विमानों की हवाई करतब दिखाने वाली पाई एरोबैटिक टीम भी अपना रोमांचक उड़ान प्रदर्शन करेगी।





रोचक बात यह है कि परेड में पाकिस्तान के अन्य सदाबहार कहे जाने वाले मित्र देशों सऊदी अरब और तुर्की की सैन्य टुकड़ियां भी भाग लेंगी।

यहां सामरिक पर्यवेक्षकों का मानना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच चल रहे मौजूदा सैनिक और राजनयिक तनावों के बीच अपने राष्ट्रीय दिवस के मौके पर पाकिस्तान चीन , सऊदी अरब और तुर्की की सैन्य टुकड़ियों को पेश कर भारत को यह संदेश देना चाहता है कि उसे इन देशों का साथ मिला है। चीन ने भी पाकिस्तान दिवस के मौके पर अपनी वायुसेना के विमानों को उडान प्रदर्शन के लिये भेजने का फैसला कर पाकिस्तान को भरोसा दिलाया है कि वह पाकिस्तान के साथ संकट के हर वक्त खड़ा रहेगा।

 चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के अंग्रेजी में प्रकाशित  दैनिक ग्लोबल टाइम्स ने उक्त आशय की रिपोर्ट प्रकाशित करते हुए शांघाई एकेडमी आफ सोसल साइंसेज के अंतरराष्ट्रीय अध्ययन संस्थान के फेलो हू चियोंग ने इस बारे में टिप्पणी की कि पाकिस्तान दिवस मनाने के मौके पर परेड में चीन द्वारा लडाकू विमानों को भेजना चीन पाकिस्तान के बीच दोस्ती का प्रतीक है।

चीनी वायुसेना इस परेड में अपने जे-10 और जेएफ-17 लड़ाकू विमानों के अलावा जेडडीके-03 पूर्व  चेतावनी देने वाले टोही विमान भी उड़ाएगी। इस दौरान चीनी वायुसेना द्वारा एफएम-90 हवाई सुरक्षा मिसाइलों का प्रदर्शन भी किया जाएगा।

गौरतलब है कि पाकिस्तानी वायुसेना चीन में निर्मित टोही विमान जेडडीके-03 के अलावा मुख्य युद्धक टैंक एमबीटी-2000 , एचजे-8 एंटी टैंक मिसाइल और एफएम-90 हवाई सुरक्षा मिसाइलों से लैस है।चाइना मिलिट्री आनलाइन पर इस जानकारी की पुष्टि की गई है।  इसके अलावा चीन पाकिस्तान द्वारा साझा तौर पर विकसित जेएफ-17 के ब्लाक-3 के विकास पर चीनी एवियेशन संस्था काम कर रही है। इसका इरादा अमेरिकी एफ-16 विमानों का मुकाबला करना है। चीन इस विमान में दुनिया के अत्याधुनिक आएसा रेडार , हेलमेट पर तैनात निशाना लगाने की प्रणाली  और नजरों से ओझल रहने वाली शस्त्र प्रणालियां लगाई जाएंगी।

Comments

Most Popular

To Top